एकनाथ शिंदे के मंत्री पर भड़क गईं विधान परिषद की उपसभापति, भरी सभा में कही यह बात

मुंबई: महाराष्ट्र विधान परिषद में उपसभापति नीलम गोरहे ने कैबिनेट मंत्री गुलाबराव पाटिल को फटकार लगा दी। हालात इतने बिगड़े कि गोहरे ने पाटिल को यह तक कह दिया कि ‘आप अपने घर पर मंत्री हैं।’ इससे पहले भी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के एमएलसी अमोल मितकारी को भी गोरहे ने हिदायत दी थी। उन्होंने राकंपा नेता से हंसने के बजाय गंभीरता से जवाब देने के लिए कहा था।

क्या था मामला
स्कूल शिक्षा मंत्री दीपक केसरकर सदन में उठाए गए सवाल का जवाब दे रहे थे। उनके जवाब से विपक्ष पूरी तरह संतुष्ट नहीं हुआ। हालांकि, बाद में केसरकर ने गुरुवार को मुद्दे पर बैठक बुलाने की भी बात कही, लेकिन विपक्ष शांत नहीं हुआ। शिवसेना एमएलसी मनीषा कायंदे का कहना है, ‘इसके बाद गुलाबराव पाटिल बीच में आए और अपनी सीट से बोलने लगे।’ मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे कैंप में शामिल पाटिल इससे पहले उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाविकास अघाड़ी सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं।

पाटिल की तरफ से दी गई दखल से विपक्षी दलों के सदस्य और नाराज हो गए, जिसके चलते हंगामा हुआ और कार्यवाही को स्थगित करना पड़ा। गोरहे ने पाटिल से कहा, ‘शिक्षा मंत्री सवाल का जवाब दे रहे थे… आप प्लीज बैठ जाएं। यह सवाल आपके विभाग से जुड़ा हुआ नहीं है। यह सवाल केसरकर के विभाग का है।’ उपसभापति के निर्देश के बाद भी सदन में हंगामा जारी रहा।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper