एसआरएमएस रिद्धिमा में तीसरे थिएटर फेस्टिवल “इन्द्रधनुष “के तीसरे दिन “पड़ोसन-एक श्रद्धांजलि”नाटक का मंचन

बरेली , 28 अक्टूबर। तीसरे थिएटर फेस्टिवल “इंद्रधनुष” के तीसरे दिन कल श्रीराम मूर्ति स्मारक रिद्धिमा के सभागार में “5 एलिमेंट्स थिएटर दिल्ली” की ओर से नाटक “पड़ोसन-एक श्रद्धांजलि” का मंचन हुआ। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में कुदेशिया साईं मंदिर की संरक्षक नीता कुदेशिया मौजूद रहीं। श्रीराम मूर्ति स्मारक ट्रस्ट के सलाहकार इंजीनियर सुभाष मेहरा, डा. एलएस मौर्या, डा.अनुज कुमार के साथ उन्होंने दीप प्रज्वलन कर मंचन का शुभारंभ किया। “पड़ोसन-एक श्रद्धांजलि” नाटक महमूद, किशोर कुमार, सुनील दत्त, ओम प्रकाश, मुकरी, कैस्टो मुखर्जी, राज किशोर जैसे उन कलाकारों को श्रद्धांजलि है, जो 60 के दशक में रिलीज हुई फिल्म पड़ोसन का हिस्सा थे और आज भी दर्शकों के अंतर्मन में जीवित हैं। अजय चौधरी लिखित और राखी मानव निर्देशित नाटक, सीधे सादे युवक भोला की कहानी है जो अपने मामा के साथ रहता है। जब उसे पता लगता है कि मामा दूसरा विवाह करना चाहते हैं तो वह उनका घर छोड़ मामी के घर चला जाता है। यहां उसका झगड़ा पड़ोस में रहने वाली खूबसूरत युवती बिंदु से होता है। बिंदु संगीत मास्टर पिल्लई को पसंद करती है, जो उसे नृत्य और संगीत सिखाने आता है। बेसुरा भोला गुरु विद्यापति से संगीत सीखने का असफल प्रयास करता है। लेकिन अपने मित्र विद्यापति की नाटक मंडली के दोस्तों की मदद से बिंदु का दिल जीतने में कामयाब हो जाता है। बिंदु अपने जन्मदिन पर भोला से गीत गाने के लिए कहती है। विद्यापति छिप कर गीत गाता है और भोला गाने का अभिनय करता है। बिंदु की छोटी बहन विद्यापति की आवाज पहचान लेती है और भोला के इस झूठ से नाराज मास्टर पिल्लई से विवाह करने का फैसला करती है। विवाह को रोकने के लिए नाटक मंडली मिलकर भोला से आत्महत्या का स्वांग करवाती है। सभी लोग भोला की मृत्यु की खबर सुन कर एकत्र होते है। विद्यापति और मास्टर पिल्लई के अनुरोध पर बिंदु भोला के प्रति अपने प्रेम को स्वीकार करती है और भोला फिर से जीवित होने का अभिनय करता है। सभी उन्हें शुभकामनाएं देते हैं। नाटक में मानव मेहरा, राघव, हरीश, गौरव, राहुल, शिवांगी, साकेत, फरदीन, यश, सिद्धार्थ ने अपनी भूमिकाएं बड़ी सहजता से निभाई। नाटक में संगीत की जिम्मेदारी मानसी मेहता ने और प्रकाश संचालन की जिम्मेदारी राघव एवं हरीश ने उठाई। इस मौके पर रजनी अग्रवाल, डा. रीता शर्मा, आशीष अग्रवाल, शैली सक्सेना सहित शहर के गणमान्य लोग मौजूद रहे।

बरेली से अखिलेश चन्द्र सक्सेना

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper