कोहरे में चला रहे हैं गाड़ी, तो जान लें ये जरूरी बातें, वरना हो सकता है बड़ा हादसा

नई दिल्ली. इस समय दिल्ली समेत उत्तर भारत के विभिन्न इलाकों में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। वहीं कई इलाकों में सुबह के समय भारी कोहरा भी देखा जा रहा है। कोहरे का प्रभाव बढ़ने की वजह से सुबह या रात के समय विजिबिलिटी काफी कम हो जाती है। विजिबिलिटी कम होने से गाड़ी को ड्राइव करना काफी मुश्किल भरा काम हो जाता है। इस दौरान अगर आप जरा सी भी गलती करते हैं। ऐसे में आपके साथ एक बड़ी दुर्घटना घट सकती है। कोहरे में गाड़ी को काफी सतर्कता के साथ ड्राइव करना होता है। इस कारण आपको कोहरे के बीच में गाड़ी चलाते वक्त कुछ सावधानियों को जरूर बरतना चाहिए। इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे साथ ही साथ दूसरे भी सेफ रहेंगे। इसी सिलसिले में आज हम आपको उन जरूरी बातों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका विशेष ध्यान ठंड के सीजन में गाड़ी चलाते समय रखना चाहिए। आइए जानते हैं इसके बारे में –

कोहरे में आपको कभी भी तेज रफ्तार से गाड़ी को नहीं चलाना चाहिए। आपको अपनी गाड़ी की रफ्तार निर्धारित गति पर ही रखनी चाहिए। इसके अलावा आपको अपनी लेन में ही गाड़ी को ड्राइव करना चाहिए। कोहरे में गाड़ी चलाते समय आपको कभी भी हाई बीम पर हेडलाइट का उपयोग नहीं करना चाहिए। कोहरे में हाई बीमा से लाइट फैल जाती है। ऐसे में सामने कुछ दिखाई नहीं देता है। इससे दुर्घटना की आशंका काफी बढ़ जाती है। ऐसे में आपको कोहरे में लो बीम पर ही गाड़ी को ड्राइव करना चाहिए।

अगर आपकी गाड़ी में फॉग लैंप का फीचर नहीं है। ऐसे में आपको बाजार से इसे अपनी गाड़ी में लगवा लेना चाहिए। फॉग लैंप काफी मददगार चीज है। इसे गाड़ी में लगाने के बाद कोहरे में कार को ड्राइव करते वक्त रास्ता साफ दिखाई देता है। इसके अलावा आपको कार चलाते वक्त समय समय पर वाइपर का इस्तेमाल करते रहना चाहिए। ऐसा करने से शीशे पर जमी ओस की बूंदें साफ हो जाती हैं। इसके अलावा आपको कोहरे में गाड़ी को ड्राइव करते समय दूसरे वाहनों से एक तय दूरी जरूर बनाकर रखनी चाहिए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper