कौन है रतन टाटा और आनंद महिंद्रा को तिरंगा देने वाली महिला?

नई दिल्ली: भारत अपनी स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे कर रहा है। इस अवसर पर पूरे देश में स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव मनाया (Azadi Ka Amrit Mahotsav) जा रहा है। इस अमृत महोत्सव के बीच दो उद्योगपतियों को एक महिला तिरंगा देती हुई दिखाई दी है। ये उद्योगपति हैं रतन टाटा (Ratan Tata) एवं आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra)। महिला के साथ दोनों उद्योगपतियों की फोटो को केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnaw) ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किया है। तत्पश्चात, सभी के दिमाग में एक ही सवाल घूम रहा है कि आखिर ये महिला है कौन, जो दिग्गजों को राष्‍ट्रीय ध्‍वज देती हुई दिखाई दे रही है।

कौन है वो महिला?
दरअसल, देश की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष के जश्न को अमृत महोत्सव के तौर पर मनाया जा रहा है। इसके तहत हर घर तिरंगा अभियान चलाया जा रहा है। लोग अपने घर और कार्यालय पर तिरंगा लगा रहे हैं। इसी अभियान के तहत मुंबई की पोस्‍टमास्‍टर जनरल दोनों उद्योगपतियों को तिरंगा देती हुई दिखाई दे रही हैं। रतन टाटा और आनंद महिंद्रा के साथ दिखाई दे रही महिला का नाम स्‍वाति पांडे है तथा वो मुंबई की पोस्‍टमास्‍टर जनरल हैं।

वही आनंद महिंद्रा ने तस्वीर ट्वीट कर लिखा- ‘हर घर तिरंगा अभियान के तहत मुंबई की पोस्टमास्टर जनरल स्वाति पांडे से तिरंगा प्राप्त करना एक सम्मान की बात थी। हमारी डाक प्रणाली में झंडा ऊंचा रखने के लिए स्वाति का धन्यवाद। यह अभी भी हमारे देश की धड़कन है’। अब आप सोच रहे हैं कि रतन टाटा एवं आनंद महिंद्रा को तो स्वाति पांडे ने तिरंगा भेंट की। फिर अश्विनी वैष्णव ने क्यों तस्वीर ट्वीट की है। तो बात ऐसी है कि अश्विनी वैष्‍णव डाक विभाग के मंत्री हैं। इसलिए उन्होंने फोटोज साझा की हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper