बिजनेसलाइफस्टाइल

गूगल पर भूलकर भी न करें ऐसी चीजें सर्च, वरना खाते से खाली हो सकते हैं लाखों रुपये

नई दिल्ली. आज के इस डिजिटल दौर ने हमारे कई कामों को काफी आसान बना दिया है। एक तरफ जहां इसके आने के बाद हमारे कई काम काफी तेजी से हो रहे हैं। वहीं उसी के समानांतर साइबर फ्रॉड का संसार भी काफी बड़ा हुआ है। बीते सालों में साइबर ठगी के कई मामले सामने निकलकर आए हैं। जालसाज लोगों के साथ ऑनलाइन ठगी करने के लिए नए-नए तरह के रास्तों की तलाश कर रहे हैं।

ऐसे में आपको इंटरनेट उपयोग करते समय हर पल सजग रहने की जरूरत है। आपकी जरा सी लापरवाही एक बड़े नुकसान की वजह बन सकती है। अगर आप भी इंटरनेट का उपयोग करते हैं। ऐसे में आपको एक जरूरी बात के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका विशेष ध्यान रखना चाहिए। आपको गूगल पर कुछ चीजों को भूलकर भी सर्च नहीं करना चाहिए। इन चीजों को गूगल पर सर्च करने से आपके बैंक अकाउंट से लाखों रुपये पल भर में गायब हो सकते हैं।

कई बार जब किसी दुकान या शॉप का नंबर चाहिए होता है। ऐसे में लोग उसको गूगल पर सर्च करने लगते हैं। दुकान के अलावा कई बार लोग बैंक के कस्टमर केयर का नंबर या दूसरी चीजें भी गूगल पर सर्च करते हैं। अगर आप भी ये गलती कर रहे हैं, तो सावधान हो जाइए। आपकी ये लापरवाही एक बड़ा नुकसान करा सकती है। हाल ही में मुंबई से एक घटना सामने निकलकर आई है। यहां एक महिला ने फूड डिलीवरी एप के माध्यम से ऑर्डर प्लेस करते समय 1 हजार रुपये का पेमेंट किया।

हालांकि, उसके द्वारा एक हजार रुपये का किया गया पेमेंट कई बार फेल हो गया। परेशान होकर महिला ने गूगल से सर्च करके उस दुकान का नंबर निकालकर कॉल किया। इसके बाद महिला ने जिस व्यक्ति को कॉल किया। उसने उससे उसके क्रेडिट कार्ड की डिटेल्स और ओटीपी मांगा। महिला ने जैसे ही उस व्यक्ति को ओटीपी नंबर बताया। उसके पल भर बाद ही बैंक अकाउंट से 2,40,310 रुपये कट गए।

ऐसे में महिला ने तुरंत इसकी शिकायत पुलिस ऑफिस में की। गौरतलब बात है कि पुलिस ने समय रहते कार्रवाई करके डिडक्ट हुई इस बड़ी राशि को रोक लिया। ऐसे में अगर आप भी गूगल पर इन चीजों को सर्च कर रहे हैं, तो आपके साथ भी फ्रॉड हो सकता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper