चुनाव से पहले योगी की राह चली गहलोत सरकार, राजस्थान में भी चला बुलडोजर

जयपुर: पेपर लीक कराने वालों के खिलाफ राजस्थान की गहलोत सरकार अब यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पैटर्न को अपना रही है। जयपुर में आज सुबह JDA अधिकारी एक बिल्डिंग के अवैध निर्माण को गिराने के लिए बुलडोजर लेकर पहुंच गए। बताया जा रहा है कि RPSC परीक्षा पेपर लीक मामले में 2 फरार आरोपी इसी बिल्डिंग में कोचिंग चला रहे थे। पेपर लीक मामले में पुलिस के शिकंजे से दोनों आरोपी अबतक फरार हैं।

अधिकारियों के मुताबिक जयपुर के गोपालपुरा बाईपास इलाके में बनी इस बिल्डिंग के कुछ हिस्सों का अवैध निर्माण कराया गया है। डेवलपमेंट अथॉरिटी के अधिकारियों ने बताया कि बिल्डिंग के अवैध निर्माण को गिराया जा रहा है। परमिट से ज्यादा जगह पर बने हिस्से को गिराया जा रहा है। RPSC पेपर लीक मामले में आरोपी इसी बिल्डिंग में अपना कोचिंग सेंटर चला रहे थे।

जयपुर विकास प्राधिकरण द्वारा जारी आदेश में बताया गया है कि उक्त कोचिंग इंस्टिट्यूट “अधिगम” शिक्षक भर्ती परीक्षा पेपर लीक प्रकरण के मुख्य अभियुक्तों द्वारा संचालित करने पर 6 जनवरी को नोटिस जारी किया गया था। 8 जनवरी को फिर से लीगल नोटिस देकर बिल्डिंग से अपना-अपना सामान खाली कर अवैध निर्माण व अतिक्रमणों को हटाने हेतु पुनः पाबंद किया गया था। आज सुबह बुलडोजर के जरिए बिल्डिंग के अवैध निर्माण को गिराया जा रहा है।

मौके पर मुख्य नियंत्रक प्रवर्तन, सभी उप नियंत्रक, उपायुक्त जोन -5, सभी प्रवर्तन अधिकारी, प्रवर्तन दस्ते, जोन टीम, इंजीनियरिंग टीम,जयपुर पुलिस कमिश्नरेट से मानसरोवर ए सी पी व थानाधिकारी और पुलिस पुलिस बल मौके पर स्थिति पर कंट्रोल पाने के लिए मौजूद है। 1 पोकलेन मशीन, 3 जेसीबी मशीन, 12 लोखंडा, 3 ड्रिल, 2 कटर और मजदूरों की सहायता से ध्वस्तीकरण की कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper