दुबई के तर्ज पर होगा भारत के इस स्टेशन का विकास, तस्वीरें देख कर हैरान हो जाएंगे आप

नई दिल्ली: केंद्र सरकार लगातार देश के रेलवे स्टेशनों को नया रूप देने में लगी हुई है। देश के सबसे प्रतिष्ठित रेलवे स्टेशनों में से एक नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को जल्द ही नया रूप दिया जाएगा। रेल मंत्रालय ने अपने ट्विटर हैंडल पर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास के लिए प्रस्तावित डिजाइन को साझा किया है। जिसमें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन की भव्यता का अंदाजा साफ लगाया जा सकता है।

रेल मंत्रालय ने जारी की तस्वीरें
दरअसल, केंद्र सरकार भारतीय रेलवे यात्रियों को एक बेहतर यात्रा अनुभव देने के लिए विश्व स्तरीय सुविधाओं के साथ पूरे भारत के प्रमुख स्टेशनों का पुनर्विकास कर रहा है। इसी के तहत नई दिल्ली रेलवे स्टेशन की भी कायाकल्प की जाएगी। रेल मंत्रालय ने ट्वीटर पर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास के लिए प्रस्तावित डिजाइन को साझा किया है।

भारत का सबसे आधुनिक रेलवे स्टेशन बनेगा ‘नई दिल्ली’
हालांकि, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन में और क्या खासियतें होंगी। इस बारे में अभी ज्यादा जानकारी साझा नहीं की गई है, लेकिन नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का ये नया लुक काफी कुछ बयान कर रहा है। जब नई दिल्ली रेलवे स्टेशन को अपना नया रूप मिलेगा। तो भारत का सबसे बड़ा और सबसे आधुनिक स्टेशन बन जाएगा।

रेलवे स्टेशन पुनर्विकास परियोजना का जल्द शुरू होगा काम
बता दें कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पुनर्विकास परियोजना का काम इस वर्ष के अंत तक शुरू होने की उम्मीद है। स्टेशन के पुनर्विकास का काम रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) को दिया गया है। निजी भागीदारी अनुमोदन समिति (पीपीपीएसी) से जल्द इस परियोजना को मंजूरी मिलने की उम्मीद है। फिलहाल वर्तमान में नई दिल्ली स्टेशन पर 16 प्लेटफार्म और पहाड़गंज और नई अजमेरी गेट की तरफ दो प्रमुख गेट हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper