देर रात फिर भड़के विद्यार्थी, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन से हड़कंप मचा

नई दिल्ली: मोहाली। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में एक छात्रा द्वारा गर्ल्‍स हास्‍टल में छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो बनाने का खुलासे हाेने के बाद रविवार काे दिनभर हंगामा और कार्रवाइयां का दौर चला। पहले आरोपित छात्रा को गिरफ्तार किए जाने और बाद में शिमला से उसके ब्‍वाय फ्रेंड की गिरफ्तारी के बाद कैंपस में शांति लौटी तो यूनिवर्सिटी प्रबंधन व पुलिस ने राहत की सांस ली। लेकिन देर रात एक बार फिर विद्यार्थी भड़क गए और कैंपस में प्रदर्शन शुरू कर दिया। इससे यूनिवर्सिटी प्रबंधन और पुलिस में हड़कंप मच गया। सोमवार सुबह से भी कैंपस में तनाव बना हुआ है। परिसर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैंैऔर पुलिस भी तैनात है।

रविवार को पूरा दिन यह बात सुर्खियों में रही कि हास्टल की कुछ आहत हुई युवतियों ने खुदकुशी का प्रयास किया है। यूनिवर्सिटी प्रबंधन और पुलिस किसी छात्रा द्वारा खुदकुशी करने की बात काे निराधार बताता रहा। वहीं एक बेहोश युवती को एंबुलेंस में लेकर जाने की वीडियो इंटरनेट पर वायरल हुई। दूसरी तरफ बताया जाता है कि यूनिवर्सिटी प्रबंधकों की ओर से कैंपस के विद्यार्थियों पर इस मामले संबंधी किसी तरह का स्टेटमेंट न देने का दवाब बनाया जाता रहा।

उसके बाद रविवार देर शाम सैकड़ों की तदाद में यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स ने दोबारा से घेराव किया और रास्ता ब्लाक करके मुख्य गेट के बाहर जमीन पर बैठ गए। भीड़ बढ़ती देख पुलिस के हाथ पांव फूल गए और वहीं यूनिवर्सिटी प्रबंधक के चेहरे पर चिंता नजर आई। विद्यार्थी एंबुलेंस में ले जाई गई छात्रा के स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर सवाल उठा रहे थे। इस पर यूनिवर्सिटी के प्रबंधकों ने प्रदर्शन पर बैठे विद्यार्थियों से कहा कि जिस युवती को जस्टिस दिलाने के लिए वे विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं वह बिल्कुल स्वस्थ है।

इस पर प्रदर्शनकारियों ने कहा कि पहले उस छात्रा को हमारे सामने लाएं। इसके बाद छात्रा को मौके पर बुलाया गया और उसने अपना पक्ष सबके सामने रखा। इस पर विद्यार्थियों की भीड़ से आवाजें आईं कि यह स्टेटमेंट छात्रा पर दबाव बनाकर दिलवाई जा रही है।

विद्यार्थियों ने कहा कि पहले उन्हें इस बात का यकीन दिलाया जाए कि वीडियो वायरल करने वाली युवती को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस पर मौके पर मौजूद मोहाली के डीसी मोहाली ने आश्वासन दिया कि इस मामले में युवती को गिरफ्तार कर लिया गया है और एसआइटी भी बना दी गई है। जल्द ही इस मामले में निष्पक्ष जांच की जाएगी। लेकिन देर रात तक प्रोटेस्ट जारी रहा।

यूनिवर्सिटी में रविवार को माहौल काफी तनावपूर्ण था। आरोप है कि मामले को दबाने के लिए विद्यार्थियों पर दबाव बनाया जा रहा था। उसी के तहत उनको मीडिया को कोई स्टेटमेंट न देने को कहा गया। इसके साथ ही वार्डन ने हास्टल के डी ब्लाक में स्टूडेंट्स के व्हाट्स एप्प ग्रुप पर मैसेज डालकर उन्हें डे आउटिंग के लिए व माइंड फ्रै श करने के लिए राक गार्डन व सुखना लेक घुमाने का पिकनिक प्लान बनाया। वायस मैसेज ग्रुप में भेजा गया लेकिन किसी भी स्टूडेट्स ने इसका रिस्पांस नहीं दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper