देशभर में कृष्ण जन्माष्टमी की धूम, पीएम मोदी ने कहा- भक्ति-उल्लास का यह उत्सव हर किसी के जीवन में सुख लाए

नई दिल्ली: देशभर में आज 19 अगस्त को कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सभी देशवासियों को जन्माष्टमी की शुभकमानाएं दी हैं। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने ट्वीट कर कहा, ”जन्‍माष्‍टमी के शुभ अवसर पर सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। भगवान कृष्‍ण की जीवन लीला से लोक-कल्‍याण हेतु निष्काम कर्म करने की शिक्षा मिलती है। मेरी कामना है कि यह पावन पर्व हम सभी को मन, वचन और कर्म से सबके हित को प्राथमिकता देने की प्रेरणा प्रदान करे।”

पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ”सभी देशवासियों को जन्माष्टमी के पावन-पुनीत अवसर पर हार्दिक शुभकामनाएं। भक्ति और उल्लास का यह उत्सव हर किसी के जीवन में सुख, समृद्धि और सौभाग्य लेकर आए। जय श्रीकृष्ण!”

गृह मंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट करते हुए देशवासियों को जन्माष्टमी की शुभकमानाएं दी हैं। अमित शाह ने ट्वीट किया, ”समस्त देशवासियों को श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं।” केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिखा, ”आप सभी को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।”

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने ट्वीट कर कहा, ”वसुदेवसुतं देवं कंसचाणूरमर्दनम्। देवकीपरमानन्दं कृष्णं वन्दे जगद्गुरुम्॥ सभी देशवासियों को जन्माष्टमी के पावन पर्व की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। भगवान द्वारिकाधीश आप सभी को आनंद, सुख, समृद्धि प्रदान करें यही कामना है। जय श्री कृष्ण!” केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी ट्वीट करते हुए लिखा, ”समस्त देशवासियों को श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।”
बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी ट्वीट कर लिखा, ” श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पावन पर्व की सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। जय श्रीकृष्ण!”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper