प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मैत्री सेतु पुल का उद्घाटन कर त्रिपुरा को देंगे कई सौगात

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मैत्री सेतु पुल का उद्घाटन करेंगे। मैत्री सेतु पुल भारत और बांग्लादेश के बीच फेनी नदी पर बना है। पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भारत और बांग्लादेश के बीच फेनी नदी पर निर्मित मैत्री सेतु पुल का उद्घाटन करेंगे। इस बात की जानकारी प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने दी है। पीएमओ ने कहा है कि मैत्री सेतु पुल भारत और बांग्लादेश संबंधों का प्रतीक है। पीएम नरेंद्र मोदी इसके अलावा आज के कार्यक्रम में त्रिपुरा में कई बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन भी करेंगे।

प्रधानमंत्री के कार्यालय के एक बयान के अनुसार मैत्री सेतु भारत और बांग्लादेश के बीच बढ़ते द्विपक्षीय संबंधों और मैत्रीपूर्ण संबंधों का प्रतीक है, जो आगे भी जारी रहेगा। पीएम मोदी का ये कार्यक्रम मंगलवार को दोपहर 12 बजेवीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से होगा। फेनी नदी त्रिपुरा और बांग्लादेश में भारतीय सीमा के बीच बहती है। पुल निर्माण को राष्ट्रीय राजमार्ग और बुनियादी ढांचा विकास निगम लिमिटेड द्वारा 133 करोड़ रुपये की परियोजना लागत पर बनाया गया है। इस पुल की लंबाई 1.9 किलोमीटर है। यह पुल भारत में सबरूम को बांग्लादेश के रामगढ़ से जोड़ता है। पीएममो ने जानकारी दी है कि पीएम मोदी आज कार्यक्रम के दौरान सबरूम में एकीकृत जांच चौकी स्थापित करने के लिए भी आधारशिला रखेंगे।

पीएमओ ने कहा है, यह दोनों देशों के बीच माल और यात्रियों की आवाजाही को आसान बनाने में मदद करेगा, उत्तर-पूर्व के राज्यों के उत्पादों के लिए नए बाजार के अवसर प्रदान करेगा और भारत और बांग्लादेश के यात्रियों की निर्बाध आवाजाही में मदद करेगा। यह परियोजना भारत के भूमि बंदरगाह प्राधिकरण द्वारा लगभग 232 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत पर बनाई जा रही है। इसके अलावा पीएम मोदी अगरतला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत बने एकीकृत कमान और नियंत्रण केंद्र का भी उद्घाटन करेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper