प्रधानमंत्री ने ‘मन की बात’ के 91वें एपिसोड के लिए मांगे लोगों से सुझाव

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ के आगामी एपिसोड के लिए लोगों से अपने विचार और सुझाव साझा करने की अपील की है। लोग ‘माई जीओवी’ या ‘नमो एप’ पर अपने विचारों को साझा कर सकते है। इसके अलावा, 1800-11-7800 नंबर पर भी डायल कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, “31 तारीख को होने वाले ‘मन की बात’ प्रसारण के लिए क्या आपके पास इस महीने के लिए इनपुट है? मैं उन्हें सुनने के लिए उत्सुक हूं.. उन्हें ‘माई जीओवी’ या ‘नमो एप’ पर साझा करें। 1800-11-7800 पर डायल कर अपने मैसेज को रिकॉर्ड करें।”

‘माई जीओवी’ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आपके महत्वपूर्ण विषयों और मुद्दों पर अपने विचार साझा करने के लिए उत्सुक हैं। पीएम आपको ‘मन की बात’ के 91वें एपिसोड में उन विषयों पर अपने विचार साझा करने के लिए आमंत्रित करते हैं, जिन्हें उन्हें संबोधित करना चाहिए।

“आने वाले मन की बात एपिसोड में आप जिन विषयों या मुद्दों पर प्रधानमंत्री से बात करना चाहते हैं, उन पर हमें अपने सुझाव भेजें। इस ओपन फोरम में अपने विचार साझा करें या वैकल्पिक रूप से आप टोल-फ्री नंबर 1800-11-7800 पर भी डायल कर सकते हैं और प्रधानमंत्री के लिए अपना मैसेज हिंदी या अंग्रेजी में रिकॉर्ड करें। कुछ रिकॉर्ड किए गए मैसेज प्रसारण का हिस्सा बन सकते हैं।”

आप 1922 पर मिस्ड कॉल भी दे सकते हैं और एसएमएस में प्राप्त लिंक का अनुसरण करके सीधे प्रधानमंत्री को अपने सुझाव दे सकते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper