बीमारी के चलते जस्टिन बीबर का भारत दौरा हो सकता है रद्द!

मुंबई: दुनिया के सबसे मशहूर सिंगर में से एक जस्टिन बीबर का गाना हर देश में सुना जाता है और करोड़ो लोग उनके फैंस है. लेकिन अब उनके चाहनेवाले के लिए बुरी खबर आ रही है। दरअसल वह अपनी एल्बम जस्टिस के प्रमोशन के लिए दुनिया के कई देशों का दौरा करने निकलने वाले थे, जिसमें वह अलग-अलग देश में जाकर मंच पर तहलका मचाते हुए दिखाई देने वाले थे और इस बार वो भारत के दौरे पर भी आने वाले थे। लेकिन लगता है कि अब ऐसा होना मुश्किल होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि पॉप स्टार ने अपना यह टूर आगे बढ़ा दिया है, जिसका मतलब उनके फैंस को कॉन्सर्ट के लिए और इंतजार करना पड़ेगा और अघर सबकुछ ठीक नहीं हुआ तो शायद ये कैंसिल भी करना पड़ा सकता है और ऐसा इसलिए क्योंकि जस्टिन इस वक्त ऐसी बमारी से जूझ रहे हैं जिसकी वजह से उनके चेहेर का एक हिस्सा लकवाग्रस्त यानि की पैरालिसिस हो गया है।

जिसमें उन्होंने अपने फैंस के साथ यह खबर साझा करने के लिए निराशा जताते हुए इसका कारण भी बताया। बीबर ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर फैंस को बताया कि वह अपने टूर की डेट्स को आगे बढ़ा रहे हैं और लिखा, ह्लविश्वास नहीं हो रहा है कि मैं यह कह रहा हूं. मैंने बेहतर होने के लिए सब कुछ किया है, लेकिन मेरी बीमारी और बिगड़ रही है. जस्टिन ने अपने नोट में बताया कि वह डॉक्टर के निदेर्शों के अनुसार ही अपने टूर की आगे की डेट्स फाइनल करेंगे. इतना सब बताने के बाद जस्टिन बीबर ने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर प्रशंसकों को बताया कि उन्हें रामसे हंट सिंड्रोम का पता चला है, जो आंशिक रूप से चेहरे के पक्षाघात का कारण बनता है.

जस्टिन ने अपने वीडियो में कहा जैसा कि आप देख सकते हैं, यह आंख नहीं झपकाती है, मैं अपने चेहरे के इस तरफ से मुस्कुरा नहीं सकता, मेरी एक तरफ की नाक भी नहीं हिल रही है और पूरा हिस्सा काम नहीं कर रहा है. इसके साथ ही मैं आपसे कहना चहाता हूं कि मेरे लिए फिलहाल स्टेज पर काम करने बेहद मुश्किल है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper