भारत-अमेरिका रणनीतिक साझेदारी ‘विश्वास की साझेदारी’ है : PM मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि भारत और अमेरिका के बीच रणनीतिक साझेदारी ‘विश्वास की सच्ची साझेदारी’ है। उन्होंने तोक्यो में क्वाड समिट से इतर दोनों देशों के बीच एक द्विपक्षीय बैठक के दौरान अपनी शुरुआती टिप्पणी में कहा, “हमारे साझा मूल्यों और सुरक्षा सहित कई क्षेत्रों में हमारे साझा हितों ने इस भरोसे के बंधन को और मजबूत किया है।”

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि “हमारे लोगों से लोगों के संबंध और घनिष्ठ आर्थिक संबंध भी हमारी साझेदारी को अद्वितीय बनाते हैं।”

उन्होंने कहा कि व्यापार और निवेश के क्षेत्र में निरंतर विकास हुआ है, हालांकि यह अभी भी हमारी वास्तविक क्षमता से कम है।

प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से कहा, “श्रीमान राष्ट्रपति, आपसे मिलकर हमेशा खुशी होती है, हमने आज एक सकारात्मक और उपयोगी क्वाड शिखर सम्मेलन में भाग लिया। मुझे विश्वास है कि भारत-अमेरिका निवेश प्रोत्साहन समझौते के शुभारंभ के साथ, हम आने वाले दिनों में ठोस प्रगति देख सकते हैं।”

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि “हम प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अपने द्विपक्षीय सहयोग का विस्तार कर रहे हैं और हम वैश्विक मुद्दों पर अपने समन्वय को भी मजबूत कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “हम हिंद-प्रशांत पर, द्विपक्षीय स्तर पर और समान विचारधारा वाले देशों के साथ अपनी साझा चिंताओं की रक्षा के लिए काम करने के लिए समान विचार साझा करते हैं। आज की हमारी चर्चा इसे सकारात्मक गति देगी।”

उन्होंने यह भी कहा कि सोमवार को इंडो-पैसिफिक इकोनॉमिक फ्रेमवर्क फॉर प्रॉस्पेरिटी (आईपीईएफ) का आरंभ इसका एक जीवंत उदाहरण था और ‘आज की हमारी चर्चा इसे और सकारात्मक गति देगी।’

मोदी ने कहा, “मुझे विश्वास है कि भारत और अमेरिका की दोस्ती वैश्विक शांति और स्थिरता, ग्रह की स्थिरता और मानव जाति की भलाई के लिए एक ताकत बनी रहेगी।”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper