रिक्शा में बम बांध कर आए हमलावर ने सेना की गाड़ी मे मारी टक्कर, 4 की मौत, 7 घायल

इस्लामाबाद: पाकिस्‍तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के उत्तरी वजीरिस्‍तान प्रांत में सेना के काफिले पर हुए आत्‍मघाती हमले चार जवानों की मौत हो गई है। इस हमले 7 लोग घायल भी हुए हैं। सेना की मीडिया मामलो की शाखा ने इसकी जानकारी दी। ये घटना खैबर पख्‍तूंख्‍वां के मीर अली इलाके की है।

इंटर सर्विस पब्लिक रिलेशन ( ISPR) ने इसकी जानकारी देते हुए कहा है कि सेना और इंटेलिजेंस आत्‍मघाती हमलावर की जानकारी खंगाल रही है। इसके अलावा सेना उन लोगों की भी जांच में जुटी है जिन्‍होंने इस घटना को अंजाम देने में अहम भूमिका निभाई है। इंटर सर्विस पब्लिक रिलेशंस (ISPR) ने कहा कि हमला करवाने वाले दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। आईएसपीआर की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि सात घायलों में तीन सिपाही, दो नायक रैंक के सैनिक और दो आम लोग शामिल हैं। पाकिस्तान वर्नाक्युलर मीडिया के मुताबिक, 2022 के पहले 3 महीने में आतंकवादी हमले से 105 सैनिकों की जान जा चुकी है।

तिपहिया रिक्शा ने मारी टक्कर
पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एक आत्मघाती हमलावर बम बांध, तिपहिया रिक्शा पर बैठकर आया और सुरक्षाबलों के वाहन में आकर टक्कर मार दी। जिसके बाद एक बड़ा धमाका हुआ और कई सैनिकों की मौत हो गई। सैनिकों की पहचान लांस नायक शाहजैब, लांस नायक सज्जाद, सिपाही उमर और सिपाही खुर्रम नरोवाल के रूप में हुई है। इस हमले में 2 नागरिक भी घायल हुए हैं। प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने आत्मघाती हमले में हुईं मौतों पर शोक व्यक्त किया और आतंकवाद को जड़ से उखाड़ फेंकने के देश के दृढ़ संकल्प को दोहराया। उन्होंने हमले की निंदा करते हुए कहा कि आतंकवादियों के नापाक मंसूबों को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा।

पाकिस्तानी सेना का हेलीकॉप्टर क्रैश
बता दें कि इसी सप्ताह पाकिस्तान के बलोचिस्तान में पाकिस्तानी सेना का एक हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया था। इस हादसे में सेना के एक टॉप कमांडर समेत छह लोगों की मौत हो गई थी। लेफ्टिनेंट जनरल सफराज अली के साथ तटरक्षक बल के महानिदेशक ब्रिगेडियर अमजद की भी मौत हो गई। पाकिस्तानी सेना ने इसे हेलीकॉप्टर क्रैश बताया था, लेकिन कहा जा रहा है कि ये आतंकी हमला था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper