रोज साबुन से नहाना फायदेमंद या नुकसानदायक, कहीं आप तो नहीं कर रहे गलती, पढ़े पूरी खबर

नई दिल्ली। अगर आपसे पूछा जाए कि आप रोज किस चीज से नहाते हैं, तो यकीनन आप यही कहेंगे कि साबुन और पानी से. हर मौसम में लोग नहाने के लिए कोई न कोई साबुन इस्तेमाल करते हैं. कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो नहाते वक्त साबुन नहीं लगाते और सिर्फ पानी से नहा लेते हैं. अब सवाल उठता है कि क्या नहाने के लिए साबुन जरूरी है? इससे हमारी हेल्थ को क्या फायदे होते हैं और क्या नुकसान होते हैं? ये कुछ ऐसे सवाल हैं, जिनका जवाब कम लोग ही जानते हैं. आज डर्मेटोलॉजिस्ट से इस बारे में तथ्य जानेंगे.

कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर और डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ. युगल राजपूत के मुताबिक रोज साबुन से नहाने के कई फायदे होते हैं. साबुन हमारी स्किन से डेड टिश्यू बैक्टीरिया और फंगस को साफ करने में मदद करता है. इससे हमारी स्किन पर इंफेक्शन नहीं होता और शरीर से बदबू भी नहीं आती. साबुन से हमारी त्वचा पर जमी धूल और गंदगी हट जाती है. इसके अलावा डेड स्किन भी हट जाती है. हर मौसम में साबुन फायदेमंद होता है.

डॉ. युगल राजपूत कहते हैं कि सर्दियों में नहाने के लिए मॉइश्चराइजिंग साबुन का इस्तेमाल करना ज्यादा फायदेमंद हो सकता है. इससे आपकी स्किन ड्राई नहीं होती और स्किन में नमी बनी रहती है. एंटीबैक्टीरियल साबुन के लिमिटेड फायदे होते हैं. अगर आप महंगे मॉइश्चराइजिंग साबुन नहीं खरीदना चाहते तो नॉर्मल साबुन भी इस्तेमाल कर सकते हैं. नॉर्मल साबुन के इस्तेमाल से स्किन ड्राई हो सकती है, ऐसे में नहाने के बाद मॉइश्चराइजर लगाना चाहिए. मॉइश्चराइजर लगाने से आपकी ड्राई स्किन की समस्या दूर हो जाएगी.

डर्मेटोलॉजिस्ट की मानें तो साबुन लगाने से हमें फायदे ज्यादा मिलते हैं, लेकिन कुछ नुकसान भी होते हैं. अगर साबुन का ज्यादा इस्तेमाल किया जाए तो स्किन ड्राई हो सकती है. साबुन में क्षारीय तत्व होते हैं, जिनसे हमारी स्किन की नमी कम हो सकती है. स्किन ड्राई होने से कई तरह की परेशानियां हो सकती हैं. हालांकि नहाने के बाद हर दिन मॉइश्चराइजर का उपयोग करके आप ड्राई स्किन की समस्या से बचाव कर सकते हैं.

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper