वरिष्ठ अकाली नेता तोता सिंह का निधन, कई दिनों से चल रहे थे बीमार

मुंबई : शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के वरिष्ठ नेता और पंजाब के पूर्व मंत्री 81 वर्षीय तोता सिंह का शनिवार को मोहाली के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। सिंह लंबे समय से बीमार थे। सिंह शिअद के नेतृत्व वाली सरकार में कृषि और शिक्षा मंत्री थे। वह वरिष्ठ उपाध्यक्ष और शिअद की कोर कमेटी के सदस्य थे। सिंह शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्य भी थे। सिंह 1997 में पहली बार मोगा विधानसभा सीट से विधायक चुने गए थे।

उन्हें उस समय प्रकाश सिंह बादल के नेतृत्व वाली सरकार में शिक्षा मंत्री के रूप में शामिल किया गया था। वह 2002 के विधानसभा चुनावों में मोगा से फिर से चुने गए लेकिन 2007 में वह हार गए। सिंह 2012 में धर्मकोट विधानसभा सीट से चुने गए और कृषि मंत्री बने। सिंह हालांकि, 2017 और 2022 में विधानसभा चुनाव हार गए। शिअद प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने सिंह के निधन पर दुख जताया है।

यह भी पढ़ें
कैदी नंबर 241383 ‘सिद्धू’ ने ऐसी काटी जेल की पहली रात, न खाया खाना, बना पटियाला जेल बैरक नंबर 10 नया ठिकाना

बादल ने ट्वीट किया, ‘वरिष्ठ अकाली नेता जत्थेदार तोता सिंह जी के निधन के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ। जत्थेदार साहब मेरे लिए पिता तुल्य थे और हम सभी के लिए प्रेरणा स्रोत थे। उनकी अमूल्य सलाह और परामर्श हमेशा याद रहेगा। दुख की इस घड़ी में मैं बराड़ परिवार के साथ हूं।’ कांग्रेस की पंजाब इकाई के प्रमुख अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने भी तोता सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया। वडिंग ने एक ट्वीट में कहा, ‘अनुभवी अकाली नेता जत्थेदार तोता सिंह जी के दुखद निधन पर मेरी संवेदनाएं।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper