वायु सेना में अधिकारी बना पांच बहनों का इकलौता भाई बेहद गरीबी में बीता पूरा बचपन ऐसे भरी उड़ान

 


नई दिल्ली: जोधपुर जिले के हरलाया गांव की झोपड़ी में रहने वाले निंबाराम कड़वासरा जो एक बेहद गरीब परिवार से है पर इसके बाद भी सभी मुश्किलों को पर कर वो वायु सेना में अधिकारी बनने का अपना सपना पूरा कर चुके है बता दे की निंबाराम ने भारतीय वायुसेना के सितंबर 2019 के बैच में 902वीं रैंक पर सफलता प्राप्त की।

निंबाराम के मैच में कुल 2620 लोग थे और वो चयन एयर फोर्स ग्रुप एक्स पड़ पर हुआ है यह 4 जुलाई 2020 को सामरा स्थित एयरमैन ट्रेनिंग स्कूल के लिए रवाना हुए हैं जिनकी टैनिंग दिसंबर 2020 तक होगी और फिर चेन्नई में ट्रेंड ट्रेनिंग होगी इसके बाद पोस्टिंग दी जाएगी।

निंबाराम का जन्म साल 2001 में हुआ था और वो पांच बहनों के इकलौते और सबसे छोटे भाई हैं इनमे से तीन बहनो की शादी हो गई है और एक बहन अभी कुंवारी हैं निंबाराम ने काफी मुश्किलों के बाद ये सफलता उन्हें हासिल की है जब वो 9वी में थे तब उन के पिता का निधन हो गया था और आर्थिक स्थिति इतनी बिगड़ चुकी थी के उनकी पढ़ाई छोड़ने तक की नौबत आ गई थी पर उनकी मां ने हिम्मत नही हारी।

इन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया दसवीं बोर्ड में उन्होंने 86% और 12वीं में 90% अंकों हासिल किये जिसके बाद उन्होंने न्होंने आईआईटी की तैयारी करने के लिए एक कोचिंग का सहारा लिया साथ ही साथ उन्होंने डिफेंस सर्विसेज की तैयारी भी शुरू कर दी और इंडियन एयरफोर्स का फॉर्म भी भरा जिस में इन्हें 2019 में सफलता मिली।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper