शादी के इतने साल बाद पत्नी को पता चला कि महिला से पुरुष बना था पति, फिर जो हुआ…

 


बड़ौदा. गुजरात के बड़ौदा में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है. दरअसल, शादी के करीब आठ साल बाद यहां एक महिला को पता चला कि उसका पति पुरुष नहीं बल्कि एक महिला हुआ करता था. उसने सर्जरी करवाकर अपना लिंक चेंज करवाया था.

बड़ौदा के गोत्री पुलिस स्टेशन में इस बारे में एफआईआर दर्ज करवाई गई है. शीतल नाम की महिला ने ये एफआईआर दर्ज करवाई है. महिला ने अपने पति विजय वर्धन पर आरोप लगाया है कि वह उसके साथ अननेचुरल सेक्स करता है. महिला ने विजय वर्धन पर चीटिंग करने का भी आरोप लगाया था. विजय वर्धन पहले लड़की था और उसका नाम विजयता हुआ करता था.

शीतल ने पुलिस को बताया है कि नौ साल पहले एक मेट्रोमोनियल वेबसाइट के जरिए उसकी विजय वर्धन से मुलाकात हुई. शीतल के पहले पति की एक रोड एक्सिडेंट में मौत हो गई थी. पहले पति की मौत के वक्त उसकी एक 14 साल की बेटी थी.

कुछ समय डेट करने के बाद शीतल और विजय वर्धन ने 2014 में शादी कर ली. इस शादी में परिवार वाले भी शामिल हुए. शादी के बाद वे दोनों कश्मीर हनीमून मनाने भी गए थे. शीतल ने बताया कि उसका पति शादीशुदा जिंदगी की चीजें नहीं करता था. वह उससे दूर भागने का बहाना ढूंढता रहा. जब वह दबाव बनाने लगी तो उसने बहाना बनाया कि कुछ साल पहले जब वह रूस में रहता था तो उसका एक्सिडेंट हुआ था. उस एक्सिडेंट के बाद वह शारीरिक संबंध बनाने की क्षमता खो चुका है. इसके बाद उसने महिला को आश्वस्त किया कि एक मामूली सर्जरी के बाद वह पूरी तरह ठीक हो जाएगा.

इस रिपोर्ट के मुताबिक जनवरी 2020 में उसने बताया कि वह ओबेसिटी की सर्जरी करवाना चाहता है. इसके कुछ दिन बाद जब वह बाहर था तब उसने महिला को बताया कि उसने लिंग चेंज करवाने के लिए सर्जरी करवाई थी.

इस दौरान आरोपी ने अपनी पत्नि के साथ अननेचुरल सेक्स करना शुरू कर दिया. इसके साथ ही उसने धमकी दी कि अगर उसने इस बारे में किसी को कुछ बताया तो उसे गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे. गोत्री पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर ने बताया कि आरोपी दिल्ली में रह रहा था उसे बड़ौदा लाया गया है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper