संकट चौथ पर बन रहा अद्भुत योग, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि, पढ़े पूरी अपडेट

नई दिल्ली. हर साल माघ मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को सकट चौथ का पर्व मनाया जाता है। इस दिन भगवान गणेश की विधि विधान से पूजा की जाएगी। मान्यता है कि सकट चौथ के दिन पूजा करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है। इसके साथ ही हर तरह के कष्टों से छुटकारा मिल जाता है। इस साल सकट चौथ पर सर्वार्थ सिद्धि योग के साथ कई शुभ योग बन रहे हैं। ऐसे में पूजा करने का कई गुना अधिक फल प्राप्त होगा। जानिए सकट चौथ का शुभ मुहूर्त, पूजा विधि।

पंचांग के अनुसार, माघ माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि 10 जनवरी 2023 को दोपहर 12 बजकर 9 मिनट पर आरंभ हो रही है, जो 11 जनवरी 2023 दोपहर 02 बजकर 31 मिनट पर समाप्त होगी। ऐसे में चंद्रोदय के समय पूजा करने के कारण सकट चौथ 2023 का व्रत 10 जनवरी, मंगलवार को रखा जाएगा।

चंद्रोदय का समय
पंचांग के अनुसार, इस दिन चंद्रोदय रात 8 बजकर 41 मिनट पर होगा।

सकट चौथ पर बन रहे हैं ये शुभ योग
सर्वार्थ सिद्धि योग- सुबह 07 बजकर 15 मिनट से 9 बजकर 1 मिनट से

आयुष्मान योग- सुबह 11 बजकर 20 20 से लेकर 11 जनवरी सुबह 12 बजकर 2 मिनट तक

प्रीति योग- सूर्योदय से लेकर 11 बजकर 20 मिनट तक

सकट चौथ के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर सभी कामों से निवृत्त होकर स्नान कर लें। इसके बाद साफ सुथरे वस्त्र धारण कर लें। भगवान गणेश का मनन करते हुए व्रत का संकल्प लें।

व्रत का संकल्प लेने के बाद पूजा आरंभ करें। सबसे पहले एक लकड़ी की चौका में लाल या पीले रंग का साफ वस्त्र बिछाकर भगवान गणेश की मूर्ति या फिर तस्वीर स्थापित करें। इसके बाद आचमन करें। गणपति को सिंदूर, कुमकुम, फूल, माला, रोली, अक्षत, दूर्वा आदि चढ़ा दें। इसके बाद भोग में मोदक सहित अन्य मिठाईयां चढ़ाएं। फिर घी का दीपक और धूप जलाकर गणेश जी मंत्र, चालीसा का पाठ कर लें। अंत में विधिवत आरती करने के बाद भूल चूक के लिए माफी मांग लें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper