सोनभद्र ‘‘जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति‘‘ (दिशा) की बैठक  सम्पन्न

सोनभद्र,सांसद लोक सभा क्षेत्र-राबर्ट्सगंज श्री पकौड़ी लाल की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभागार में ‘‘जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति‘‘ (दिशा) की बैठक की अध्यक्षता सम्पन्न हुईं। अध्यक्ष ‘‘ जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति ‘‘/सांसद श्री पकौड़ी लाल ने अधिकारियोें को आवश्यक दिशा-निर्देश देेते हुए कहा कि अधिकारीगण अपने-अपने विभागों द्वारा संचालित विकास कार्यक्रमों और जन कल्याणकारी योजनाओं की मुकम्मल सूची जन प्रतिनिधियों के साथ ही ‘‘जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति ‘‘ के सदस्यों को भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें, उन्होंने कहा कि कहा कि प्रधान मंत्री जी के नये भारत निर्माण के लिए जनप्रतिनिधि व अधिकारीगण आपसी ताल-मेल के साथ जरूरी योजनाओं को लोगों तक पहुंचायें। जिले के विकास के लिए भारत सरकार व प्रदेश सरकार काफी कोशिश कर रही है। जिले में धन की कोई कमी नहीं है, सिर्फ जरूरत है सभी सम्बन्धित अधिकारियों/कर्मचारियों को जन प्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित कर योजनाओें के माध्यम से पात्रों का चयन कर परम आवश्यक कार्यों को पहले पूरा किया जाना। उन्होंने समन्वय के साथ विकास कार्यक्रमों व जन कल्याणकारी योजनाओं को जमीनी हकीकत के मुताबिक अमली जामा देने की जहाॅ हिदायत दी, वहीं जिला प्रशासन के प्रयासों की तारीफ करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को दायित्वबोध कराया। उन्होंने कहा कि अधिकारीगण/कार्यदायी संस्थाएं पूरी ईमानदारी, पारदर्शिता, समयबद्धता के साथ ही गुणवत्ता पूर्ण तरीके से कार्यों का निर्वहन करना सुनिश्चित करें।
बैठक के दौरान सांसद श्री पकौड़ी लाल ने ‘‘जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति ‘‘की अध्यक्षता करते हुए महात्मा गाॅधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी अधिनियम के तहत मनरेगा के तहत कराये गये कार्यों की समीक्षा करते हुए स्थानीय स्तर पर ज्यादा से ज्यादा रोजगार दिलाने व पूर्व में मनरेगा के तहत कराये गये कार्यो के बकाये मजदूरी को अदा कराने के निर्देश दिये। उन्होंने ग्रामीण आवास योजना, प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना, समेकित वाटरकोड प्रबन्धन कार्यक्रम, स्वच्छ भारत अभियान ग्रामीण व शहरी, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, मीड-डे-मील योजना, सर्व शिक्षा अभियान, पिछड़ा क्षेत्र अनुदान निधि, दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना, डिजिटल इण्डिया भू-रिकार्ड आधुनीकीकरण कार्यक्रम, प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, समेकित बाल विकास कार्यक्रम, प्रधान मंत्री उज्जवला योजना, प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण व शहरी, दीन दयाल उपाध्याय कौशल विकास योजना, दीन दयाल अन्त्योदय योजना, अटल मिशन फार रिजूवेनेशन एण्ड अर्बन ट्रान्सफार्मेशन, हेरिटेज शहर विकास और वृद्धि योजना, स्मार्ट सिटीज मिशन, बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओ, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, एकीकृत विद्युत विकास योजना के तहत कामन सर्विस सेन्टरों की स्थापना आदि योजनाओं की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए सौहार्द पूर्ण माहौल में रचनात्मक तथ्य जन प्रतिनिधियों ‘‘जिला विकास समन्वय एवं अनुश्रवण समिति ‘‘ के सदस्योें आदि द्वारा पेश किये जाने पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि अधिकारीगण व कार्यदायी संस्थाएं अच्छी सोच और अच्छी माहौल में जन प्रतिनिधियों से समन्वय के साथ जिले को आदर्श रूप देने की पूरी कोशिश करें। इस दौरान विधायक घोरावल डाॅ0 अनिल कुमार मौर्य, विधायक दुद्धी श्री रामदुलारे गौंड़ आदि ने जमीनी जरूरत के मुताबिक जिले में विकास परक व जन कल्याणकारी योजनाओं को मूर्त रूप देने पर जोर दिया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री सौरभ गंगवार, विधायक घोरावल प्रतिनिधि श्री सुरेन्द्र मौर्या, सांसद प्रतिनिधि श्री कुलदीप पटेल, क्षेत्र पंचायत सदस्यगण, नगर पंचायत चेयरमैनगण, जनप्रतिनिधिगण, समिति के सदस्यगण, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 अश्वनी कुमार,परियोजना अधिकारी श्री आर0एस0 मौर्या, डी0सी0 मनरेगा श्री रमेश यादव सहित सहित सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारीगण आदि उपस्थित रहे।
रवीन्द्र केसरी सोनभद्र
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper