सोनभद्र में मुख्यमंत्री जी के विकास प्राथमिकता वाली योजनाओं की जिलाधिकारी ने सी0एम0 डैशबोर्ड के माध्यम से की समीक्षा, दिए आवश्यक निर्देश, कुछ अधिकारियों को स्पष्टीकरण देने के निर्देश

सोनभद्र,जिलाधिकारी श्री चन्द्र विजय सिंह ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में शासन की विकास प्राथमिकता वाली योजनाओं की बिन्दुवार समीक्षा की, इस दौरान जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहाकि विभिन्न विभागों की योजनाओं, परियोजनाओं की आनलाईन इंटीग्रेटेड माध्यम से सी0एम0 डैशबोर्ड पर कार्यों की प्रगति की समीक्षा की जा रही है शासन के निर्देश के क्रम में महत्वपूर्ण योजनाओं, परियोजनाओं, सेवाओं की समीक्षा प्रत्येक माह सी0एम0 डैशबोर्ड पर उपलब्ध सूचनाओं के आधार पर की जायेगी, सभी अधिकारीगण अपने विभाग की योजनाओं की प्रगति की निगरानी सी0एम0 डैशबोर्ड के माध्यम से करते रहें, उन्होंने कहा कि सी0एम0 डैशबोर्ड की समीक्षा के दौरान प्रगति धीमी पाये जाने पर सम्बन्धित अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करते हुए उनके विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। जिलाधिकारी ने सी0एम0 डैशबोर्ड के माध्यम से सड़कों के निर्माण व जनपद के प्रदेश की सीमा पर बनाये जा रहे गेट के निर्माण कार्य की धीमी प्रगति पर अधिशासी अभियन्ता प्रान्तीय खण्ड व अधिशासी अभियन्ता निर्माण खण्ड-2 को स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिये है, अनुरक्षण आदि के कार्यों की बिन्दुवार समीक्षा के दौरान सड़कों के अनुरक्षण, नव निर्माण की प्रगति धीमी पायी गयी, जिस पर जिलाधिकारी ने मौके पर उपस्थित अधिशासी अभियन्ता को निर्देशित करते हुए कहा कि सड़कों के अनुरक्षण व नव निर्माण के कार्य शासन की मंशा के अनुरूप ससमय पूर्ण किये जाये। इसी प्रकार से जिलाधिकारी ने नगवां ब्लाॅक के अन्तर्गत बनाये जा रहे खेलो इण्डिया मल्टी परपज हाल के निर्माण कार्य के प्रगति की समीक्षा की तो निर्माण कार्य की प्रगति धीमी पायी गयी जिस पर जिलाधिकारी ने प्रोजेक्ट मैनेजर पैकफेड को स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिये है इसी प्रकार जिलाधिकारी ने सी0एन0डी0एस0 विभाग द्वारा जनपद में 50 लाख से अधिक लागत के निर्माणाधीन परियोजनाओं के कार्यो की समीक्षा की तो निर्माण कार्यो की प्रगति धीमी पायी गयी जिस पर जिलाधिकारी ने प्रोजेक्ट मैनेजर सी0एन0डी0एस0 को स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिये, इस दौरान जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज विभाग द्वारा शौचालय निर्माण व जियो टैकिंग व 15वें वित्त आयोग द्वारा धनराशि व्यय आदि के प्रगति की समीक्षा के दौरान प्रगति धीमी पायी गयी जिस पर जिला पंचायत राज अधिकारी को स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिये है। इसी प्रकार से बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी से पशुओं के टीकाकरण कृत्रिम गर्भाधान पोल्ट्री फार्म की स्थापना की प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी ली तो प्रगति धीमी पायी गयी जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिये। इस दौरान जनपद के विभिन्न विभागों की सी0एम0 डैशबोर्ड पर उपलब्ध सूचनाओं के आधार पर विकास कार्यों, लाभार्थीपरक व जन कल्याणकारी योजनाओं की सम्बन्धित अधिकारियों से बारी-बारी से बिन्दुवार समीक्षा की। विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता विद्युत को निर्देशित करते हुए कहा कि विद्युत की आपूर्ति शासन द्वारा निर्धारित समय अवधि के अनुसार सुनिश्चित की जाये, लोकल फाल्ट आदि की समस्याएं शीघ्रता के साथ पूर्ण करायी जाये और ट्रान्सफार्मरों की मरम्मत व रिपेरिंग का कार्य शासन द्वारा निर्धारित समय पर पूर्ण किया जाये, विद्युत आपूर्ति से सम्बन्धित प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समयबद्ध तरीके से सुनिश्चित किया जाये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री सौरभ गंगवार, जिला विकास अधिकारी श्री शेषनाथ चैहान, डी0सी0 मनरेगा श्री रमेश यादव, डी0सी0 एन0आर0एल0एम0 ए0के0 जौहरी, जिला समाज कल्याण अधिकारी श्री रमांशकर यादव, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी श्री नवीन कुमार पाठक, जिला प्रोबेशन अधिकारी श्री सुधांशु शेखर शर्मा, अपर जिला सूचना अधिकारी श्री विनय कुमार सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper