हिंदू नेता केशव मूर्ति ने कुरान को कहा अपराधिक किताब, बोले- इसे पढ़ने वाले आतंकवादी

नई दिल्ली. कर्नाटक (Karnataka) से आ रही एक बड़ी खबर के अनुसार, यहां कोलार में हिंदू जागरण वैदिक नामक संगठन के लीडर केशव मूर्ति के खिलाफ हेट स्पीच (Hate Speech) मामले में पुलिस ने FIR दर्ज की है। दरअसल केशव पर एक कुरान और एक विशेष धर्म के लोगों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने का संगीन आरोप है। वहीं इस मामले में अब अंजुमन-ए-इस्लामिया संगठन के अध्यक्ष जमीर अहमद ने केशव के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।

उक्त घटना बीते एक जुलाई की है, वहीं जब केशव राजस्थान के उदयपुर में दर्जी कन्हैया लाल की हत्या को लेकर विरोध जता रहे थे। तब इस विरोध प्रदर्शन के दौरान उन्होंने अपने भाषण में कुरान पढ़ने वाले और उसका पालन करने वाले को आतंकवादी बताया था।

दरअसल कर्नाटक के कोलार में अपने विरोध प्रदर्शन के दौरान केशव मूर्ति ने नूपुर शर्मा का समर्थन और उदयपुर हत्याकांड का भी जिक्र किया था। दरअसल केशव ने कहा था कि, “कुरान एक आपराधिक किताब है। यह लोगों को पत्थर मारकर और सिर काटकर जान से मारने का आदेश देता है। आज कुरान पढ़ने वाले सभी आतंकवादी बन चुके हैं।”

फिलहाल जमीर अहमद की शिकायत के बाद हिंदू जागरण वैदिक के नेता केशव के खिलाफ IPC की धारा 153A, 153 B और 295 A(धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper