40 के बाद महिलाओं को शरीर में इन विटामिन की नहीं होने देनी चाहिए कमी, ये रही वजह

नई दिल्ली. महिलाओं के शरीर में 40 के बाद कई बदलाव होते हैं. वो पहले से कमजोर पड़ने लगती हैं. चलने फिरने में परेशानी होती है. हार्मोनल बदलाव भी इसका कारण होता है. ऐसे में महिलाओं को अपने खान पान का विशेष ध्यान देना चाहिए, ताकि वह बढ़ती उम्र में भी स्वस्थ्य रह सकें. महिलाओं को 40 के बाद कुछ जरूरी विटामिनऔर मिनरल्स खाने शुरू कर देने चाहिए जिसके बारे में यहां बताया जा रहा है. तो चलिए जानते हैं.

– विटामिन बी 12 महिलाओं की सेहत के लिए बहुत जरूरी है. यह शरीर में ब्ल्ड फ्लो बनाए रखने का काम करता है. इसके लिए महिलाएं अंडे, मीट और डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करें.

– विटामिन सी भी 40 की उम्र के बाद बहुत जरूरी होता है. यह आपके शरीर का घाव भरने, कोलेजन का उत्पादन करने के लिए बहुत जरूरी होता है. यह बाल और स्किन दोनों के लिए बहुत अच्छा माना जाता है.

– विटामिन डी शरीर के लिए बहुत जरूरी है. इसकी कमी से आपको दिल की परेशानी हो सकती है. ये महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए बहुत जरूरी है.

– कैलश्यिम भी बढ़ती उम्र के लिए बहुत जरूरी है. इसकी कमी हड्डियों की परेशानी शुरू हो सकती है.इसलिए अपनी डाइट में कैल्शिम से भरपूर फूड्स, जैसे कि दूध, दही, खट्टे फल, पनीर और हरी सब्जियां शामिल कर लें.

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper