अगर आप भी एटीएम से निकालते हैं कैश , जानिए स्टेट बैंक,पीएनबी और अन्य बैंकों से कितना निकाल सकते हैं कैश

अगर आप एटीएम से कैशनिकालने जा रहे हैं तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है.एटीएम से पैसे निकालने के लिए सभी बैंकों के अलग-अलग रूल हैं तो हम आपको स्टेट बैंक ऑफ इंडिया , पंजाब नेशनल बैंक और ICICI Bank के साथ साथ सभी बैंकों में एटीएम से पैसे निकालने के नियम और लिमिट बताते है.जानिए किस बैंक के एटीएम से एक दिन में कितना पैसा निकाला जा सकता हैं-

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया -यह देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक है,इस bank के ATM से आप एक दिन में कम से 100 रुपये और ज्यादा से 20 हजार रुपये निकाल सकते हैं.

पंजाब नेशनल बैंक –
पंजाब नेशनल बैंक मे ATM प्लेटिनम और Rupay डेबिट कार्ड के माध्यम् से आप एक दिन में 50,000 रुपये तक कैश निकाल सकते हैं.

आईसीआईसीआई बैंक –
ICICI Bank बैंक की वेबसाइट के मुताबिक, आप 1 लाख रुपये तक कैश प्लेटिनम चिप कार्ड के जरिए निकाल सकते हैं.

एचडीएफसी बैंक-
एचडीएफसी बैंक के प्लेटिनम डेबिट कार्ड के जरिए बैंक 1 लाख रुपये रोज कैश निकालने की सुविधा देता है.

आपको बताते चलें कि अब आरबीआई ने बैंक के एटीएम में कैश समाप्त होने पर बैंक पर जुर्माना लगाने का फैसला किया है. यह जुर्माना 1 अक्टूबर से लागू होगा. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने यह जुर्माना का प्रावधान लोगों की असुविधा को दूर करने के लिए लगाया है ताकि केस खत्म होने के कारण लोगों को होने वाली असुविधा ना हो. अगर किसी बैंक में कैश खत्म हो जाता है तो उस पर ₹10000 तक का जुर्माना लगेगा

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper