कांग्रेस ने बुलाई 17 जुलाई को विपक्षी पार्टियों की बैठक, शिवसेना को भी भेजा न्यौता

नई दिल्ली । संसद का मानसून सत्र 18 जुलाई से शुरू होने वाला है। ऐसे में कांग्रेस नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार को घेरने के लिए रणनीति तैयार कर रही है। मॉनसून सत्र को लेकर 17 जुलाई को विपक्षी पार्टियों की बैठक बुलाई गई है। राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सभी विपक्षी पार्टियों को पत्र लिखकर बैठक में आने का न्यौता दिया है, जिसमें शिवसेना पार्टी भी शामिल है।

इस बैठक से पहले 14 जुलाई को कांग्रेस संसदीय रणनीति समिति समूह की बैठक होने वाली है। इस बैठक की अध्यक्षता खुद पार्टी की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी करेंगी। संसद का मानसून सत्र 18 जुलाई सोमवार से शुरू होकर 12 अगस्त तक चलेगा। मॉनसून सत्र को लेकर 17 जुलाई को होने वाली में उपराष्ट्रपति के नाम पर भी फैसला होगा। उपराष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष, दोनों ने फिलहाल अपने पत्ते नहीं खोले हैं लेकिन इन दोनों चुनावों का असर संसद सत्र में देखने को मिलेगा।

इसके अलावा संसद का मानसून सत्र से पहले केंद्र सरकार ने भी सर्वदलीय बैठक बुलाई है। सरकार ने 17 जुलाई रविवार को सुबह 11 बजे सर्वदलीय बैठक बुलाई है। सरकार की तरफ से संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने सभी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper