चौंकाने वाला मामला: पति को हो गया किन्नर से प्यार, पत्नी ने पता चलते ही किया ये कारनामा

कोई भी महिला सौतन को स्वीकार नहीं करती, हालाँकि ओडिशा से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। जी दरसल यहां एक शख्स को एक किन्नर से प्यार था, और उसे उसकी पत्नी ने भी स्वीकार कर लिया है। जी हाँ और सबसे बड़ी बात की शादी की परमिशन भी दे दी है। केवल यही नहीं कालाहांडी की महिला ने पति को यह अनुमति भी दे दी है कि वह किन्नर को भी अपने ही घर में रख ले यानी तीनों ही एक छत के नीचे रहेंगे। आपको बता दें कि किन्नर से शादी रचाने वाले शख्स का दो साल का बेटा भी है।

इस मामले में मिली जानकारी के तहत वह पिछले एक साल से किन्नर के साथ अफेयर में था और जब इस बात की जानकारी उसकी पत्नी को हुई तो उसने इस रिश्ते को स्वीकार कर लिया और किन्नर के साथ पति को उसी घर में रहने की मंजूरी दे दी। वैसे कानूनी रूप से पहली पत्नी से तलाक लिए बिना कोई शख्स दूसरा विवाह नहीं कर सकता लेकिन यहाँ पत्नी ने ही पति की किन्नर से शादी करवा दी। इस मामले में पुलिस का कहना है कि यदि किसी भी पक्ष की ओर से शादी को लेकर कोई ऐतराज सामने आता है या फिर शिकायत की जाती है तो फिर ऐक्शन लिया जाएगा। दूसरी तरफ इस मामले में कानून के जानकारों का कहना है कि, ‘इस शादी को कानूनी वैधता नहीं मिल सकती।’

इस बारे में एक अधिवक्ता ने कहा कि, ‘पहली शादी के बरकरार रहते हुए दूसरी शादी को मंजूरी नहीं मिल सकती। भले ही वे लोग शादी करके ही रह रहे हों, लेकिन पहली पत्नी के रहते हुए इस रिश्ते को लिव-इन रिलेशनशिप या फिर विवाहेतर संबंध के तौर पर ही जाना जाएगा।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper