जम्मू-कश्मीर में पुलिस अधिकारी के हत्यारे समेत 4 आतंकवादी ढेर

श्रीनगर । जम्मू-कश्मीर पुलिस के सब-इंस्पेक्टर फारूक अहमद के हत्यारे सहित चार स्थानीय आतंकवादियों को मंगलवार को पुलवामा और सोपोर जिलों में दो आतंकवाद विरोधी अभियानों में मार गिराया गया। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस ने कहा कि पुलवामा में तुज्जन गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में मिली गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस, सेना और सीआरपीएफ कर्मियों ने इलाके को संयुक्त रूप से घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू की।

तलाशी अभियान के दौरान संयुक्त सुरक्षा बल जैसे ही उस स्थान पर पहुंचा, जहां आतंकवादियों के छिपे होने का संदेह था, वे अंधाधुंध गोलीबारी की चपेट में आ गए और जवाबी कार्रवाई की, जिससे मुठभेड़ हुई। पुलिस ने कहा, “मुठभेड़ में प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए और उनके शव मुठभेड़ स्थल से बरामद किए गए।”

इनकी पहचान पुलवामा के बरपोरा निवासी आबिद अहमद शेख और पंपोरा के बानपोरा लड्डू निवासी माजिद नजीर वानी के रूप में हुई है। पुलिस कहा, “पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, मारे गए दोनों आतंकवादी सुरक्षा बलों पर हमले और नागरिकों पर अत्याचार सहित कई आतंकी अपराध के मामलों में शामिल समूह का हिस्सा थे। इसके अलावा, मारे गए आतंकवादी माजिद नजीर वानी भी एसआई फारूक अहमद की हत्या में शामिल थे।”

मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया है।

पुलिस ने कहा, इसी तरह सोपोर के तुलीबल इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी के संबंध में पुलिस को मिले खास इनपुट के आधार पर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ द्वारा संयुक्त घेराबंदी की गई और तलाशी अभियान शुरू किया गया था।

पुलिस ने कहा, “तलाशी अभियान के दौरान संयुक्त तलाशी दल जैसे ही आतंकवादियों की मौजूदगी वाली जगह पर गया, उन पर अंधाधुंध गोलीबारी की गई। जवाबी कार्रवाई में मुठभेड़ शुरू हो गई।”

“मुठभेड़ में प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए और उनके शव मुठभेड़ स्थल से बरामद किए गए।”

इनकी पहचान शोपियां के टेंगवानी निवासी जाहिद अहमद चोपन और पुलवामा के वाशबग निवासी मोहम्मद यूनुस गुल के रूप में हुई है।

पुलिस ने कहा, “पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, मारे गए दोनों आतंकवादी हाल ही में आतंकी गुट में शामिल हुए थे।”

मुठभेड़ स्थल से दो एके-47 राइफल और चार मैगजीन समेत हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया है।

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने संयुक्त टीमों को बिना किसी क्षति के पेशेवर तरीके से आतंकवाद विरोधी अभियान चलाने के लिए बधाई दी है।

उन्होंने पुलवामा में पुलिस अधिकारी की हालिया हत्या में शामिल आतंकवादी का पता लगाने और उसे मार गिराने के लिए सुरक्षा कर्मियों की भी सराहना की।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper