दुमका के 33 स्कूलों में जुमे के दिन रखी जा रही छुट्टी, नाम भी बदला

दुमका । दुमका जिले (Dumka District) में 33 ऐसे सरकारी स्कूल (government school) हैं, जिनके नाम में न केवल उर्दू (Urdu) जुड़ा है, बल्कि इन स्कूलों में शुक्रवार (Friday) को जुमे की छुट्टी रहती है। ऐसे लगभग सभी प्राथमिक और मध्य विद्यालय मुस्लिम बहुल इलाके में हैं।

हाल में झारखंड के जामताड़ा जिले में उर्दू स्कूलों में शुक्रवार को जुमे की छुट्टी रहने के मामले सामने आने के बाद दुमका में पड़ताल से यह तथ्य उजागर हुआ है। इन 33 उर्दू नामधारी प्राथमिक और मध्य विद्यालयों को छोड़ कर जिले के सभी सरकारी विद्यालयों में रविवार को साप्ताहिक अवकाश रहता है।

बता दें कि ये सभी 33 स्कूल मदरसा नहीं हैं, बल्कि सामान्य प्राथमिक और मध्य विद्यालय हैं। दूसरे सरकारी स्कूलों की तरह ही इन उर्दू स्कूलों में भी हिन्दी मीडियम में सभी विषयों की पढ़ाई होती है। केवल स्कूल के नाम में उर्दू जोड़ दिया गया है। जिले के मुस्लिम बहुल इलाके में चल रहे उर्दू नामधारी इन 33 सरकारी स्कूल रविवार को खुले रहते हैं, जबकि शुक्रवार को विद्यालय बंद रहता है।

शनिवार से शुरू होता है सप्ताह
शुक्रवार को साप्ताहिक अवकाश के कारण जिले के उर्दू नामधारी सरकारी प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों में सप्ताह की शुरुआत शनिवार से होती है। बच्चों को दिए जाने वाले मिड डे मील का जो मेन्यू स्कूल की दीवारों पर अंकित है, उसमें सप्ताह की शुरुआत शनिवार से दिखाया गया है। रविवार को मेन्यू में चावल, दाल व हरी सब्जी के प्रावधान का उल्लेख है। दूसरी ओर शुक्रवार के दिन का कॉलम जुमे की छुट्टी के कारण खाली है।

जिले में कहां-कितने सरकारी उर्दू स्कूल
शिकारीपाड़ा: 10
जामा: 2
जरमुंडी: 2
सरैयाहाट: 7
रानेश्वर: 8
काठीकुंड: 2
दुमका: 2

सभी बीईईओ से रिपोर्ट तलब
जिला शिक्षा अधीक्षक(प्रभारी) संजय कुमार दास ने कहा कि जिले के सभी प्रखंडों के बीईईओ से प्रतिवेदन मांगा गया है। किस परिस्थिति में स्कूलों का नाम परिवर्तित कर उर्दू किया गया है और किसके आदेश से स्कूलों में साप्ताहिक छुट्टी शुक्रवार को घोषित है,इसकी रिपोर्ट हर प्रखंड से मंगाई जा रही है। रिपोर्ट के आधर पर जांच की जाएगी । जांच के उपरांत दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper