पहले पत्नी और बेटी के साथ बर्थडे किया सेलिब्रेट, फिर पूरे परिवार समेत सल्फास खाकर दे दी जान

उत्तर प्रदेश : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की राजधानी (Lucknow) लखनऊ के जानकीपुरम (Jankipuram) से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहां पर एक ही परिवार के 3 सदस्यों द्वारा केक (Cake) खाकर आत्महत्या करने की खबर सामने आई है। ये परिवार अपना अगला जन्मदिन मनाते हुए सभी ने सल्फास खाकर तड़प-तड़प कर जान दे दी।

दरअसल, नलकूप के जेई शैलेंद्र कुमार ने अपनी पत्नी और बेटी के साथ हाल ही में खुदकुशी कर लिया। जिसमें नया खुलाया हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शख्स ने मरने से पहले केक मंगवाया था। जिसके बाद केक को काटकर उसमें सल्फास (Sulfas) मिलाया और फिर ‘हम सबको अगला जन्मदिन मुबारक’ ऐसा कहते हुए परिवार को केक खिलाया। पड़ोसी लवकुश के मुताबिक, जैसे ही उन्हें इस बात की भनक लगी दरवाजा कूदकर उन्होंने घर में प्रवेश किया। वहां पहुंचकर लवकुश ने देखा कि शैलेंद्र कुमार, पत्नी और बेटी जमीन पर गिरे पड़े थे और सल्फास खाने की वजह से तड़प रहे थे।

जब पड़ोसी उन्हें हॉस्पिटल ले जाने लगे तो वो उन्हें मना कर रहे थे। जिसे देख पड़ोसी आश्चर्यचकित हो गये, लेकिन इसके बाद भी वो उन्हें जैसे-तैसे पुलिस की सहायता से हॉस्पिटल लेके पहुंचे बावजूद इसके उन्हें बचाया नहीं जा सका। बता दें, केक काटने से पहले मृतक शैलेंद्र ने अपने ऑफिस के किसी व्यक्ति को फोन किया था और उससे यह भी कहा था कि अब जी नहीं पाएंगे हम और केक मंगाकर जन्मदिन मनाने जा रहे हैं, जैसे ही यह बात ऑफिस के व्यक्ति को समझ में आई वैसे ही उसने शैलेंद्र के घर पुलिस को भेजा, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। हालांकि, अभी तक खुदखुशी के पीछे की वजह सामने नहीं आई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper