प्रधानमंत्री मोदी ने ‘हर घर तिरंगा’ आंदोलन को मजबूत करने का किया आह्वान

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को लोगों से ‘हर घर तिरंगा’ आंदोलन को मजबूत करने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री मोदी ने उन लोगों के स्मारकीय साहस और प्रयासों को भी याद किया, जिन्होंने स्वतंत्र भारत के लिए एक ध्वज का सपना देखा था, जिसमें हमारे तिरंगे से जुड़ी समिति का विवरण और पंडित नेहरू द्वारा फहराया गया पहला तिरंगा शामिल है।

मोदी ने कहा कि 22 जुलाई का देश के इतिहास में विशेष महत्व है, क्योंकि इसी दिन 1947 में राष्ट्रीय ध्वज को अपनाया गया था। प्रधानमंत्री मोदी ने कई ट्वीट किए। उनमें से एक ट्वीट में उन्होंने कहा, “इस साल, जब हम ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मना रहे हैं, तो आइए हम ‘हर घर तिरंगा’ आंदोलन को मजबूत करें। 13 से 15 अगस्त के बीच तिरंगा फहराएं या अपने घरों में प्रदर्शित करें। यह आंदोलन राष्ट्रीय ध्वज के साथ हमारे जुड़ाव को गहरा करेगा।”

तिरंगे से जुड़ी समिति और पंडित नेहरू द्वारा फहराए गए पहले तिरंगे समेत इतिहास के कुछ दिलचस्प पहलुओं को साझा करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “आज, हम उन सभी लोगों के स्मारकीय साहस और प्रयासों को याद करते हैं, जिन्होंने स्वतंत्र भारत के लिए ध्वज का सपना देखा था। हम औपनिवेशिक शासन से लड़ रहे थे। हम उनके विजन को पूरा करने और उनके सपनों के भारत का निर्माण करने की प्रतिबद्धता को दोहराते हैं।”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper