यूक्रेन ने भारत समेत पांच देशों में तैनात अपने राजदूतों को किया बर्खास्त

कीव: यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमीर जेलेंस्की ने भारत समेत पांच देशों से अपने राजदूतों को पद से हटा दिया है।राष्ट्रपति की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, यूक्रेन ने जर्मनी, भारत, चेक रिपब्लिक, नॉर्वे और हंगरी में तैनात अपने राजदूतों को उनके पदों से बर्खास्त कर दिया है।इसके पीछे के कारण का अभी तक पता नहीं चल पाया है और न ही यह साफ हुआ है कि इन अधिकारियों को कोई दूसरी जिम्मेदारी सौंपी जाएगी या नहीं।

रूस के खिलाफ कई महीनों से युद्ध लड़ रहे यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने अपने राजनयिकों से देश के लिए अंतरराष्ट्रीय समर्थन और सैन्य मदद जुटाने की मांग की है। गौरतलब है कि रूस और यूक्रेन के बीच 24 फरवरी से युद्ध जारी है।

जर्मनी में तैनात यूक्रेनी राजदूत एंड्री मेलनिक की बर्खास्तगी की सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है।उन्हें जेलेंस्की की पूर्ववर्ती सरकार ने 2014 में जर्मनी में नियुक्त किया था और मेलनिक को जर्मन नेताओं और अधिकारियों के बीच काफी पसंद किया जाता है।कयास लगाए जा रहे हैं कि युद्ध के दौरान यूक्रेन के लिए पर्याप्त सैन्य सहायता और समर्थन न जुटा पाने के कारण इन पांचों राजदूतों की विदाई हुई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper