Top Newsउत्तर प्रदेशराज्य

यूपी पुलिस की सक्रियता से बची युवक की जान, मामला जान आप भी रह जायेंगे हैरान

लखनऊ: आगरा में यूपी पुलिस की सक्रियता से एक युवक की जान बचा ली गई। परिवार वालों से झगड़ा करने के बाद युवक कमरे को बंद कर सुसाइड कर रहा था। इसी दौरान पिता ने पुलिस को कॉल कर दी। पुलिस ने भी बिना कोई देरी किए पहुंची और कमरे के दरवाजे को सिलेंडर से तोड़कर अंदर घुस गई। अंदर युवक हाथ की नस काट चुका था और तड़प रहा था। तत्काल उसे अस्पताल पहुंचाया गया। समय से अस्पताल पहुंचने से उसकी जान बचा ली गई। घटना शाहगंज क्षेत्र की है।

सारय ख्वाजा चौकी पुलिस को युवक के पिता से सूचना मिली कि उनका बेटा शराब पीकर घर में पत्नी और मां के साथ मारपीट कर रहा है। उसने अपने आप को कमरे में बंद कर लिया है। जान देने के लिए उसने घर की खिड़की में हाथ मारकर खुद को बुरी तरह घायल कर लिया है। पुलिस ने बिना देर किए युवक के घर के लिए रवाना हो गई। थाना प्रभारी आलोक कुमार, SI मांगेराम, SI प्रमोद कुमार और कॉन्स्टेबल कुशलपाल व सचिन धामा मौके पर पहुंचे।

पुलिस ने पहले कमरे के बाहर खिड़की से युवक को समझाने का प्रयास किया। युवक से दरवाजा खोलने के लिए कहा गया। मगर, अंदर से युवक ने जवाब नहीं दिया। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने दरवाजा तोड़ने का फैसला कर लिया।

पुलिसकर्मियों ने पहले पैर से मारकर दरवाजा तोड़ने की कोशिश की फिर गैस सिलेंडर से दरवाजे पर कई चोट मारी। उसके बाद दोबारा पैर से मारकर दरवाजा तोड़ दिया। पुलिस अंदर पहुंची तो युवक लहूलुहान हालत में जमीन पर पड़ा था। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने युवक को अस्पताल पहुंचाया। समय पर इलाज मिलने से युवक की जान बच गई।

जवान बेटी की जान बचने से परिजनों ने पुलिस वालों धन्यवाद दिया। परिजनों ने कहा कि पुलिस ने समय पर रिस्पॉन्स किया। सूचना देने के 10 मिनट में आ गई। बिना एक मिनट गवाएं, दरवाजा तोड़ा। समय रहते इलाज मिलने पर बेटे को बचाया जा सका। मौके पर मौजूद लोगों ने भी पुलिस टीम की प्रशंसा की।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper