उत्तर प्रदेश

रूहेलखंड विश्वविद्यालय के एक प्रतिनिधिमंडल ने महामहिम राज्यपाल की अध्यक्षता में राजभवन में आयोजित कार्यशाला में प्रतिभाग किया

बरेली ,09 अगस्त। महात्मा ज्योतिबा फुले रुहेलखंड विश्वविद्यालय के एक प्रतिनिधिमंडल ने हाल ही में राजभवन में आयोजित एक कार्यशाला में प्रतिभाग किया जिसमें राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने एनआई0आर0एफ0 रैंकिंग हेतु कार्यशाला की अध्यक्षता की। कार्यशाला में महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनंदी बेन पटेल ने रूहेलखण्ड विश्वविद्यालय द्वारा एन0आई0आर0एफ0 रैंकिंग के मानदण्डों पर प्रस्तुतिकरण की समीक्षा भी की। उन्होंने कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए कहा कि
उत्तर प्रदेश के विश्वविद्यालयों को देश एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अग्रणी बनाने के लिए विश्वविद्यालयों में आपसी तालमेल और परस्पर साझेदारी आवश्यक है। विश्वविद्यालय अपनी फैकल्टी की क्षमता सम्वर्द्धन के साथ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शैक्षणिक सम्बन्ध तथा विद्यार्थियों की भागीदारी को भी सुदृढ़ करें। रूहेलखण्ड विश्वविद्यालय को नैक की उच्चतम ग्रेडिंग ‘ए प्लस प्लस‘ प्राप्त है, एन0आई0आर0एफ0 में भी ग्रेडिंग के मानदण्डों के अनुरूप कमियों को दूर कर प्रतिबद्धता के साथ बेहतर रैंकिंग के लिए प्रयास करें।

कार्यशाला के दूसरे सत्र में क्यू एस वर्ल्ड रैंकिंग के बारे में जानकारी दी गई एवं उसकी तैयारी के बारे में विस्तृत चर्चा की गई।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर केपी सिंह ने कार्यशाला में अपने विश्वविद्यालय द्वारा किए जा रहे प्रयासों को बताते हुए विश्व के प्रमुख विश्वविद्यालय में शामिल होने का पूर्ण प्रयास करेगा!

कार्यशाला में प्रमुख रूप से अपर मुख्य सचिव श्री सुरेश बोबडे , प्रोफेसर पंकज जानी, विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो के पी सिंह, प्रो विनय ऋषीवाल, प्रो अलोक, प्रो तुलिका , डॉ आभा, डॉ ज्योति, डॉ क्षमा, डॉ उपेंद्र, डॉ दीपक,डॉ नवीन, डॉ भोला खान आदि मौजूद रहे। बरेली से अखिलेश चन्द्र सक्सेना की रिपोर्ट

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper