विशेष पुरूस्कार से नवाजा गया डीजे कॉलेज का होनहार, पूर्व प्रवक्ता स्व.गिरीश चन्द्र मिश्र की स्मृति में हुआ मेधावी का सम्मान

सीतापुर। जेएलएमडीजे इण्टर कॉलेज खैराबाद में शुक्रवार का दिन कुछ खास रहा। इस दिन कॉलेज का होनहार छात्र विशेष पुरस्कार से नवाजा गया।
इसी विद्यालय के प्रवक्ता रहे स्व.गिरीश चन्द्र मिश्र की स्मृति में उनकी धर्मपत्नी ऊषा मिश्रा एवं इकलौते पुत्र आशीष मिश्रा ‘गीतू’ ने वर्ष 2022-23 हाईस्कूल बोर्ड परीक्षा में अंग्रेजी विषय में सर्वाधिक 85 अंक लाने वाले छात्र विनीत कुमार को पाँच हजार रूपये नगद पुरूस्कार व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस मौके पर अतिथियों ने खैराबाद के ग्राम मुलाहिमपुर के रहने वाले विनीत कुमार के पिता रामस्वरूप व माँ कालिंदी का उत्साह वर्धन करते हुए उन्हें बधाई दी। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्रीमती ऊषा मिश्रा ने कहा कि भारत सर्वाधिक युवाओ का देश है। यहाँ की मेघा सशक्त भारत की पहचान बन रही है। उन्होने कहा कि मेरे पति स्व.गिरीश चन्द्र मिश्रा ने सम्पूर्ण जीवन जेएलएमडीजे इण्टर कॉलेज में प्रवक्ता रहते हुए गरीब व बेसहारा छात्रो को आगे बढ़ाया है। उन्ही की सोंच को जीवन्त रखने के लिये मेरा परिवार इस तरह के आयोजन प्रतिवर्ष करता है।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए स्व.गिरीश चन्द्र मिश्र के पुत्र आशीष मिश्रा ‘गीतू’ ने बताया कि उनके पिता को भारत रत्न तत्कालीन प्रधानमंत्री स्व.अटल बिहारी बाजपेई ने विज्ञान भवन, नई दिल्ली में ‘ पांचजन्य नचिकेता पुरस्कार’ से 23 मार्च 2001 को सम्मानित किया था। अपने सफल सम्पादकीय कार्यों के साथ ही 1959 से 1988 तक डीजे कॉलेज खैराबाद में अंग्रेजी प्रवक्ता के रूप में शिक्षण कार्य किया। गीतू मिश्रा ने कहा कि नैमिष की धरती व खैराबाद की माटी से होनहार छात्रों के निकलने की एक लम्बी फहरिस्त है, जिसके उदाहरण स्वरूप उन्होंने कहा कि पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष राकेश त्रिपाठी के छोटे भाई डा.पुष्कर त्रिपाठी, इसी खैराबाद से निकल कर आज लखनऊ आई.ई.टी. में प्रोफेसर के पद पर सेवायें दे रहें है। साथ ही खैराबाद में तीन बार के सभासद रहें आलोक बाजपेयी के भतीजे भी पेट्रोलियम इंजीनियरिंग करके आज मल्टीनेशनल कम्पनी में कार्यरत है। श्री मिश्र ने कहा कि उनकी बेटी जिसकी एकडमिक शिक्षा व बचपन से ही अपने बाबा से बेहद लगाव होने के कारण ही आज उनके आशीर्वाद से उसका भी प्रवेश इस वर्ष लखनऊ आई.ई.टी. में मैकेनिकल इंजीनियरिंग में हुआ है।
विद्यालय के प्रधानाचार्य मनोज कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि पुरूस्कार छात्रों का उत्साहवर्धन करते हैं। मेधावी छात्रों के लिये पुरूस्कार आभूषण के समान होते हैं। पुरूस्कार पाने वाले विद्यार्थियों का मनोबल बढ़ता है। स्व.मिश्र के परिवार द्वारा प्रत्येक वर्ष दिया जाने वाला यह पुरूस्कार समाज के लिये प्रेरणादायी है। कार्यक्रम का सफल संचालन विद्यालय के खेल शिक्षक शाह आलम खान ने किया। इस दौरान भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष राकेश त्रिपाठी, भाजपा के पूर्व जिला महामंत्री ओमप्रकाश मिश्र, सभासद आलोक बाजपेयी, विद्यालय संस्थापक परिवार के सदस्य हर्षवर्धन, वैष्णो ग्रुप के संचालक धीरेन्द्र शुक्ला ‘मोनू’ सहित विद्यालय के अध्यापक शिवमूर्ति, डा. नंदीस मिश्र, स्मृति शुक्ला, विपिन कुमार यादव, सिंह सुनील कुमार सहित सभी शिक्षक, कर्मचारी एवं छात्र मौजूद रहे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper