सोनिया गांधी से ईडी की पूछताछ को लेकर लोक सभा में हंगामा

नई दिल्ली । कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी की पूछताछ को लेकर गुरुवार को कांग्रेस सांसदों ने लोक सभा में जमकर हंगामा किया। कांग्रेस सांसदों की नारेबाजी और सोनिया गांधी की तस्वीर वाली तख्तियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने कहा कि कानून के समक्ष सब समान है, क्या कांग्रेस की अध्यक्षा होने के नाते सोनिया गांधी सुपर ह्यूमन है, कानून से ऊपर है।

गुरुवार को सुबह 11 बजे लोक सभा की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस सांसद सोनिया गांधी की तस्वीर वाली तख्तियां लेकर नारेबाजी करते हुए वेल में आ गए। कांग्रेस सांसद आसन के निकट पहुंचकर और वेल में खड़े होकर लगातार नारेबाजी करते नजर आए। लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने नारेबाजी के बीच सदन में प्रश्नकाल को चलाने का प्रयास किया लेकिन हंगामा जारी रहा। इसी दौरान अन्य विरोधी दलों के सांसद महंगाई और जीएसटी को लेकर वेल में तख्तियां लहराते हुए नारेबाजी करते रहे।

इस नारेबाजी के बीच सरकार की तरफ से केंद्रीय संसदीय मंत्री प्रल्हाद जोशी ने कहा कि कांग्रेस और अन्य विपक्षी दल महंगाई पर चर्चा की मांग कर रहे थे। सरकार ने इनकी मांगें मानते हुए दोनों सदनों में कह दिया है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के स्वस्थ होते ही (कोविड संक्रमित हैं वित्त मंत्री) जब भी अध्यक्ष (लोक सभा में) और सभापति (राज्य सभा में) कार्य मंत्रणा समिति में इस पर चर्चा का समय तय करेंगे, सरकार इसके लिए तैयार है।

जोशी ने हंगामा कर रहे कांग्रेस सांसदों पर निशाना साधते हुए कहा कि अब ये जिनकी तख्तियां लेकर आएं हैं क्या कांग्रेस की अध्यक्षा होने के नाते वो सोनिया गांधी सुपर ह्यूमन है, कानून से ऊपर है। उन्होंने कहा कि कानून के सामने सब समान है।

लगातार जारी हंगामे की वजह से लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सदन की कार्यवाही को 11:30 बजे तक स्थगित कर दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper