अजब-गजबलाइफस्टाइल

अनोखी शादी: गो माता को साक्षी मानकर दूल्हा-दुल्हन ने लिए सात फेरे, मेहमानों ने…

फरीदाबाद। ज्यादातर वर-वधु अग्नि को साक्षी मानकर शादी के बंधन में बंधने के लिए फेरे लेते हैं। यहां पर एक वर-वधु ने ऊंचा गांव गोशाला में सर्वदेवमयी गो माता(गंगा) को साक्षी मानकर फेरे लिए हैं।

आदर्श नगर के रहने वाला अमित गुप्ता ने बताया कि वे लंबे समय से ऊंचा गांव गोशाला से जुड़े हुए हैं। उसकी शादी एसजीएम नगर की रहने वाले निधि गुप्ता से शादी तय हो गई।

उन्होंने अपने परिवार और गोशाला संचालक रूपेश यादव से गोशाला में शादी करने की इच्छा जताई। उनकी इच्छा के अनुसार गोशाला में प्रबंधन समिति के सदस्य और गोपाल इस शादी के साक्षी बने। अमित गुप्ता और निधि गुप्ता ने ऊंचा गांव गोशाला में गो माता को साक्षी मानकर फेरे लिए।

गोशाला संचालक रूपेश यादव ने बताया कि निर्मोही अखाड़ा के राष्ट्रीय प्रवक्ता बुंदेलखंड पीठाधीश्वर संत सीताराम दास ने सनातनी विवाह के लिए गोशाला को सबसे पवित्र स्थल बताया है। गो माता को साक्षी मानकर फेरे लेने वाले वर-वधु को 33 कोटि देवी-देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

गोशाला प्रबंधन टीम ने विवाह का कार्यभार संभाला व वर-वधु के मेहमानों की सेवा की। विवाह का आयोजन गो मानव सेवा ट्रस्ट द्वारा निर्मित श्री कृष्ण सत्संग भवन में किया गया।

गोशाला प्रबंधन की तरफ से वर-वधु को शुभकामनाएं दी व उपहार स्वरूप गोघृत दिया गया। विवाह में शामिल होने आए मेहमानों ने गाेवंश को गोग्रास व गुड़ खिलाकर वर-वधु के सुखद-सफल वैवाहिक जीवन की कामना की।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper