आज होगा इमरान की तकदीर का फैसला, पाक असेंबली में शाम 4 बजे पेश होगा प्रस्ताव

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की तकदीर का फैसला आज हो जाएगा। पाक नेशनल असेंबली में शाम 4 बजे उनकी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया जाएगा। मीडिया रिपोर्टों व विपक्ष के दावों के अनुसार उनकी सरकार अल्पमत में आ चुकी है। घबराहट में इमरान खान ने रविवार को विशाल रैली निकालकर विपक्षी नेताओं पर जमकर भड़ास निकाली। उधर विपक्षी दलों की आज साझा रैली भी हो रही है। सभी की नजरें पाकिस्तान में आज होने वाले सियासी संग्राम पर टिकी हैं।

पाक संसद में सोमवार को अविश्वास प्रस्ताव के जरिए होने वाले शक्ति परीक्षण में यदि इमरान खान बहुमत साबित करने में विफल रहे तो उनकी कुर्सी चली जाएगी। इस तरह उनका नाम भी समय पूर्व कुर्सी गंवाने वाले पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों में शुमार हो जाएगा। उनकी सरकार गिरने के आसार इसलिए ज्यादा हैं, क्योंकि उनके ही दल के कई साथी व गठबंधन के दल उनके खिलाफ बगावत कर चुके हैं।

नेशनल असेंबली की सोमवार की कार्यसूची में अविश्वास प्रस्ताव भी शामिल है। विपक्ष के नेता इसे शाम 4 बजे पेश करेंगे। संक्षिप्त बहस के बाद इस पर मतदान हो सकता है। इसी बीच पूर्व पीएम नवाज शरीफ की पार्टी व जमीयत उलेमा ए इस्लाम (JUI) के अध्यक्ष फजलुर रहमान महंगाई व इमरान की पार्टी पाकिस्तान तहरीके इंसाफ (PTI) के खिलाफ विशाल मार्च लेकर इस्लाबाद पहुंच रहे हैं। ऐसे में आज इस्लामाबाद बड़ी राजनीतिक उठापटक का केंद्र बनेगा।

इमरान का कार्यकाल पूरा करने का दावा, भारत की तारीफ, विपक्ष की आलोचना
इमरान खान अपनी कुर्सी को बचाने के लिए हर कोशिश कर रहे हैं लेकिन संकट के बादल गहरा रहे हैं। इमरान खान ने रविवार को इस्लामाबाद में बड़ी रैली की थी। इसमें 10 लाख लोग शामिल हुए थे। रैली में इमरान खान ने दावा किया कि वह अपना कार्यकाल पूरा करेंगे। उन्होंने पाकिस्तान की दुर्दशा के लिए पूर्ववर्ती पीएम व मौजूदा विपक्षी दलों को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने भारत के विकास की तारीफ भी की। उन्होंने अपने काम गिनाए, भावुक हुए और गुस्सा भी दिखाया। भारत का जिक्र कर कहा कि 90 के दशक में भारतीय टीम पाकिस्तान आती थी, तो उन्हें लगता था कि वे किसी अमीर मुल्क में हैं। आज भारत हमसे आगे है। ये हमारे हुक्मरानों की नालायकी का नतीजा है।

विपक्ष के पास 163 का समर्थन, इमरान के पास 155
पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक जम्हूरी वतन पार्टी के शाहजैन बुगती ने गठबंधन से अलग होने का फैसला ले लिया है। विपक्ष के पास इस समय पीएमएल – क्यू समेत 163 सदस्यों का समर्थन है। वहीं इमरान के पास 155 का। बलूचिस्तान आवामी पार्टी और मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पाकिस्तान समेत तीन पार्टियां अब भी किसी फैसले पर नहीं पहुंची हैं और दोनों ही तरफ बातचीत कर रही हैं।

पंजाब के सीएम के खिलाफ भी अविश्वास प्रस्ताव
उधर, पाक पंजाब के सीएम उस्मान बुजदार के खिलाफ भी विपक्ष ने अविश्वास प्रस्ताव पेश कर दिया है। जियो टीवी पाकिस्तान ने सोमवार को खबर दी कि विपक्ष ने सीएम बुजदार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया है। इससे इमरान की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। उनकी पार्टी पर बुजदार को हटाने का दबाव और बढ़ गया है। खबरों में यह भी कहा गया है कि सीएम बुजदार की सिफारिश पर पीएम इमरान खान पंजाब विधानसभा भंग कर राज्य में चुनाव कराने का भी फैसला कर सकते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper