उत्तराखंड को नमामि गंगे परियोजना के लिए मिले 25 करोड़ रुपये, सीएम धामी ने केंद्र सरकार का जताया आभार

देहरादून। नमामि गंगे परियोजना के तहत गंगा नदी जल प्रदूषण को नियंत्रित करने और गंगा तट पर सार्वजनिक सुविधाओं के विकास के लिए 25 करोड़ रुपए की तीन परियोजनाओं को राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन, जल शक्ति मंत्रालय की 43वीं कार्यकारी समिति की बैठक में मंजूरी दी गई। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को इसके लिए धन्यवाद दिया है। गौरतलब है कि हाल में ही सीएम धामी ने दिल्ली दौरे के दौरान पीएम मोदी, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत समेत कई केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात की थी। मंत्रियों से मुलाकात में सीएम धामी ने उत्तराखंड के विकास को लेकर विस्तृत चर्चा की थी। वहीं, केंद्र ने भी तमाम योजनाओं को लेकर उत्तराखंड में काम करने की बात कही थी।

वहीं, वापस देहरादून आने पर सीएम धामी ने कहा था कि आगामी कुछ महीनों में कई बड़ी केंद्रीय योजनाएं उत्तराखंड में देखने को मिलेंगी। वहीं, उत्तराखंड में चल रही तमाम केंद्रीय योजनाओं की रफ्तार भी अब और तेज की जाएगी। ताकि जल्द से जल्द इन योजनाओं को पूरा किया जा सके।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper