जिला विधिक सेवा प्राधिकरण न्यायाधीश ने जिला जेल में किया विधिक जागरूकता कार्यक्रम

बरेली: उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के आदेशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव, न्यायाधीश श्री सौरभ कुमार वर्मा ने कल जिला जेल का निरीक्षण किया।

सचिव श्री सौरभ कुमार वर्मा ने जिला जेल में बंद सिद्धदोष बंदियों को विधिक जानकारी उपलब्ध कराने के साथ निःशुल्क विधिक सहायता प्रदान करने को चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी भी बंदियों को उपलब्ध कराई। साथ ही जेल में अपनी सजा पूरी कर चुके उन बंदियों को भी विधिक जागरूकता कार्यक्रम के तहत जानकारी उपलब्ध कराई गई, जिन बंदियों ने अपनी सजा पूरी होने पर रिहाई हेतु प्रार्थना पत्र शासन को भेजे थे तथा सजा पूरी कर चुके सभी बंदियों की जानकारी जेल प्रशासन से तत्काल जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

विधिक जागरूकता कार्यक्रम व निरीक्षण के दौरान प्राधिकरण सचिव ने महिला बैरक में बंद महिला बंदियों से उनके रहन-सहन के बारे में जानकारी ली, साथ ही जिन महिला बंदियों के साथ छोटे बच्चे थे उनकी विशेष देखभाल, खानपान तथा पर्याप्त कपड़े उपलब्ध कराने के निर्देश जेल प्रशासन को दिये। उन्होंने महिला बैरकों, शौचालय एवं स्नानघरों की साफ सफाई के बारे में भी निर्देश दिये। उन्होंने बैरक में बंद दो महिला बंदियों को विधिक सहायता दिलाए जाने हेतु अविलम्ब प्राधिकरण को प्रार्थना पत्र भेजे जाने के लिए भी निर्देशित किया। उन्होंने पाकशाला का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय पाकशाला में बन रहे भोजन की गुड़वत्ता को परखा एवं जेल प्रशासन को खान पान की गुड़वत्ता में और अधिक सुधार किये जाने तथा पाकशाला में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखे जाने निर्देश दिए।

इस अवसर पर वरिष्ठ जेल अधीक्षक श्री राजीव कुमार शुक्ला, जेलर श्री आर0के0 मिश्रा, जेलर श्री अपूर्व पाठक, डिप्टी जेलर श्री कृष्ण मुरारी गुप्ता, डिप्टी जेलर श्री दुष्यंत प्रताप सिंह, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से श्री नौशाद अली उपस्थित रहे।

बरेली से ए सी सक्सेना की रिपोर्ट

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper