दक्षिण-पश्चिम मानसून पहुंचा मुंबई, गर्मी से कुछ राहत; इन इलाकों में तेज हवाओं के साथ बौछारें पड़ने का अनुमान

नई दिल्ली: दक्षिण-पश्चिम मानसून ने महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई और आसपास के अन्य इलाकों में दस्तक दे दी है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को इसकी घोषणा की। विभाग ने कहा कि अगले 3-4 घंटों के दौरान ठाणे, रायगढ़, पालघर, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग और मुंबई जिलों में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। साथ ही इस दौरान 30-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाओं के चलने का अनुमान है। शुक्रवार को मुंबई में सीजन की सबसे भारी प्री-मानसून बारिश हुई। मुंबई के दक्षिणी हिस्से में मध्यम से भारी बारिश हुई। आईएमडी के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं, क्योंकि लगभग एक सप्ताह की धीमी प्रगति के बाद इसने रफ्तार पकड़ी है।

इन इलाकों में मानसून के बढ़ने की संभावना
आईएमडी के पूर्वानुमान के मुताबिक, “मध्य अरब सागर के कुछ और हिस्सों, गोवा, दक्षिण महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों, कर्नाटक के कुछ और हिस्सों, तमिलनाडु के शेष हिस्सों, दक्षिण आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों, पश्चिम के कुछ और हिस्सों में मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं।” इस बीच, आईएमडी ने 10-11 जून को अरुणाचल प्रदेश में और अगले पांच दिनों के दौरान असम व मेघालय में अत्यधिक भारी वर्षा (204.5 मिमी से अधिक) की चेतावनी दी है। गौरतलब है कि देश में वार्षिक बारिश में 70 प्रतिशत बारिश मानसूनी हवाओं से होती है और इसे कृषि आधारित अर्थव्यवस्था के लिए जीवनरेखा माना जाता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper