भाजपा के इस दिग्गज नेता का अचानक निधन, पार्टी में दौड़ी शोक की लहर, पीएम मोदी ने जताया शोक

पटना . बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता सुशील मोदी का सोमवार को दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया. विशेष विमान द्वारा पार्थिव शरीर मंगलवार सुबह पटना के राजेन्द्र नगर स्थित आवास पर आएगा. पिछले महीने ही उन्‍होंने राजनीति से संन्‍यास की घोषणा कर दी थी. उन्‍होंने कहा था कि मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सबकुछ बता दिया है; इस बार मैं लोकसभा चुनावों में कुछ नहीं कर पाऊंगा.

कैंसर से पीड़ित सुशील कुमार मोदी लंबे समय से बीमार चल रहे थे. 72 वर्षीय बीजेपी नेता बीते 6 माह से ज्‍यादा बीमार थे और इसी वजह से वह लोकसभा चुनाव में पार्टी के लिए प्रचार भी नहीं कर रहे थे. 3 अप्रैल को खुद के कैंसर से पीड़ित होने की जानकारी दी थी. सुशील मोदी ने बीते समय सोशल मीडिया पर एक संदेश के जरिए बताया था कि ‘पिछले 6 माह से कैंसर से जूझ रहा हूं, लेकिन अब समय है कि मैं लोगों को इसकी जानकारी दे दूं. लोक सभा चुनाव में मैं कुछ नहीं कर पाऊंगा और यह सब मैंने पीएम मोदी को बताया है. देश, बिहार और पार्टी का सदा आभार और सदैव समर्पित.’

पीएम मोदी ने जताया शोक, दी श्रद्धांजलि
सुशील मोदी के निधन पर पीएम मोदी ने शोक जताते हुए लिखा कि दशकों से मेरे मित्र और पार्टी में मूल्‍यवान सहयोगी रहे सुशील मोदी जी के असामयिक निधन से अत्‍यंत दुख हुआ. बिहार में भाजपा के उत्‍थान और उसकी सफलताओं के पीछे उनका अमूल्‍य योगदान रहा. आपातकाल का विरोध करते हुए उन्‍होंने छात्र राज‍नीति से अपनी पहचान बनाई और वे मिलनसार, मेहनती विधायक के रूप में पहचाने जाते रहे. शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और समर्थकों के साथ हैं. ओम शांति.

भाजपा के राष्ट्रीय जे. पी. नड्डा ने ग् पर लिखा, “भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री श्री सुशील मोदी जी के निधन का समाचार अत्यंत दुःखद है. विद्यार्थी परिषद से लेकर अभी तक हमने साथ में संगठन के लिए लंबे समय तक काम किया. सुशील मोदी जी का पूरा जीवन बिहार के लिये समर्पित रहा.” बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतिश कुमार ने कहा कि सुशील कुमार मोदी जेपी आंदोलन के सच्‍चे सिपाही थे और उन्‍होंने डिप्‍टी सीएम के तौर पर काफी वक्‍त हमारे साथ काम किया. मेरा उनके साथ व्‍यक्तिगत संबंध था और उनके निधन से मैं मर्माहत हूं. वहीं, राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी एवं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव सहित आरजेडी परिवार ने भी सन् 1974 आंदोलन के छात्र नेता सह पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के निधन पर गहरी शोक संवेदना प्रकट की है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
E-Paper