रात को सोते समय मोजे पहनने की आदत क्यों हो सकती है नुकसानदेह, जानिए अब इसके नुकसान

सर्दी के मौसम में लोग खुद को गर्म रखने के लिए हर संभव कोशिश करते हैं। फिर चाहे वह खाने से हो या पहनने से। डाइट में लोग ऐसी चीजों का सेवन करते हैं, जो उन्हें अंदर से गर्म रखती हैं। वहीं जब कपड़ों की बात आती है तो हम आपको बता दें कि स्वेटर या जैकेट के अलावा कई लोगों की आदत होती है कि सर्दियों में सोते समय मोजे पहनकर ही सो जाते हैं। ठंड का उन पर इतना असर होता है कि वे सोते समय भी मोजे पहनना पसंद करते हैं। यह दिन हो या रात सोते समय आपको गर्मी का एहसास करा सकता है, लेकिन इसके कई नुकसान भी हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक इसका सबसे बुरा असर ब्लड सर्कुलेशन पर पड़ता है. जानकारों के मुताबिक लंबे समय तक मोजे पहनने से नसों पर दबाव पड़ता है और ऐसा होने पर स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होने लगती हैं। हम आपको आज रात मोजे पहनकर सोने से होने वाले नुकसान के बारे में बताने जा रहे हैं।

रक्त परिसंचरण
कहा जाता है कि रात को सोते समय टाइट मोजे पहनने से तलवों और पैरों के बीच रक्त संचार प्रभावित होता है। इस दौरान आपको झुनझुनी या दबाव महसूस हो सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इससे पैरों में अकड़न भी हो सकती है।

लोग सोचते हैं कि सोते समय मोजे पहनने से उन्हें गर्मी तो मिलेगी, लेकिन कई बार यह गर्मी नुकसानदायक भी साबित हो सकती है। इससे शरीर का तापमान बहुत ज्यादा बढ़ सकता है और इस वजह से आपको बेचैनी भी महसूस हो सकती है। रात को सोते समय मोजे पहनने की गलती न करें।

हाइजीन
कई बार लोग जिस सुख में बाहर आते हैं और पहन लेते हैं, उसमें सोना भूल जाते हैं। जुराबों में जमी धूल और मिट्टी का स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है और इससे त्वचा से जुड़ी कई समस्याएं हो सकती हैं।

दिल
के लोग सोचते हैं कि अगर वे टाइट मोजे पहनकर सोएंगे तो पैरों में गर्मी जस की तस रहेगी। जानकारों के मुताबिक ऐसा करने से दिल की सेहत से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। कहा जाता है कि टाइट मोजे पहनने से नसों पर दबाव बढ़ जाता है और इससे दिन में मिलने वाला खून प्रभावित होता है। ऐसे में दिल को पंप करने में और भी ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। दिल की बीमारियों को खुद से दूर रखने के लिए ढीले या हल्के मोजे पहनें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper