हरे प्याज में छिपा है सेहत का राज़, सर्दियों में खूब खाएं, कैंसर समेत इन बीमारियों से होगा बचाव

 


वैसे तो हरा प्‍याज, प्‍याज का ही एक प्रकार है, जिसमें ब‍ल्‍ब की तुलना में पत्तियां अधिक होती हैं. इन पत्तियों में भरपूर मात्रा में सल्फर, फाइबर, विटामिन्स, मिनरल्स, मैग्नीशियम, पोटेशियम, कॉपर और मैग्नीज जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं. ये सभी पोषक तत्व शरीर में न्यूट्रिशंस कमी को पूरा करने में मदद करते हैं. हरे प्याज के सेवन से मेटाबॉलिज्‍म बेहतर होता है और यह हमारे वजन को भी नियंत्रित रख सकता है. कई गुणों से भरपूर इस सब्‍जी के बारे में हम आपको बताते हैं कि आखिर हरा प्‍याज हमारी सेहत के लिए कितना फायदेमंद है और हमें विंटर में इसे क्‍यों अपने डाइट में शामिल करना चाहिए.

लो कार्बोहाइड्रेट- वेरीवेलफिट के मुताबिक, हरे प्‍याज में कार्बोहाइड्रेट काफी कम मात्रा में पाया जाता है जिस वजह से इसमें स्‍टार्च की मात्रा भी काफी कम होती है. इस वजह से इसके सेवन से ब्‍लड शुगर नहीं बढ़ता.

विटामिन K से भरपूर- हरे प्‍याज में विटामिन k भरपूर मात्रा में होता है. इसके अलावा इसमें विटामिन ए, विटामिन सी और फॉलेट भी भारी मात्रा में पाया जाता है. इस तरह ये महिलाओं की सेहत के लिए खासा फायदेमंद है.

हड्डियों को बनाता है हेल्‍दी- अगर आप रोज 3 मीडियम साइज का हरा प्‍याज खाएं तो ये रोजाना के विटामिन के की आपूर्ति अकेले कर सकता है. बता दें कि विटामिन के ब्‍लड क्‍लॉट और हड्डियों की सेहत के लिए काफी जरूरी तत्‍व होता है.

कैंसर का खतरा करता है कम- लहसुन, लीक की तरह ही ग्रीन ओनियन भी एलियम(Allium) फैमिली का एक हिस्‍सा है. वैज्ञानिकों ने पाया है कि यह कैंसर से प्रोटेक्‍ट करने में काफी सहायक होता है. अध्ययन में पाया गया है कि इन सब्जियों के सेवन से मायलोमा, गैस्ट्रिक, कोलोरेक्टल, एंडोमेट्रियल, फेफड़े और प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम किया जा सकता है. इसके अलावा, ये मोटापे या इससे संबंधित बीमारियों, डायबिटीज, हार्ट डिजीज, पेट की समस्‍या, कुछ खास तरह की एलर्जी से भी प्रोटेक्‍ट करने में सक्षम है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper