‘द कश्मीर फाइल्स’ ने फिर पकड़ा जोर, ‘आरआरआर’ के तीसरे दिन भी नहीं हुआ कुछ खास कलेक्शन

मुंबई : फिल्म (Film) ‘आरआरआर’ (RRR) के कलेक्शन (Collection) ने निर्माता (Producer) को सोच में डाल दिया हैं। ये फिल्म उम्मीद से कम का बिजनेस कर रही है। वहीं इसके तेलुगू संस्करण का बॉक्स ऑफिस बिजनेस दिनों-दिन लुढ़कता जा रहा है, जो की चिंता का कारण बना हुआ है। हालांकि, फिल्म के हिंदी संस्करण से निर्देशक एस एस राजामौली को अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। वहीं विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ शुक्रवार के बाद से एक बार फिर जोर पकड़ा है।

फिल्म ‘आरआरआर’ ने शनिवार को कुल 86 करोड़ से अधिक का बिजनेस किया। जिसमें तेलुगू संस्करण 52 करोड़ और हिंदी संस्करण 23 करोड़ तक पहुंचा। वहीं ये भी उम्मीद लगाया गया था की शायद रविवार को इस फिल्म के कलेक्शन में उछाल आए, लेकिन रविवार को भी इसका कलेक्शन 85 करोड़ में सिमट कर रह गया। जिसमें हिंदी संस्करण 31 करोड़ के करीब और तेलुगू संस्करण 28 करोड़ ही जुटा पाया। रविवार के आंकड़ों के हिसाब से इस फिल्म का कुल कलेक्शन 300 करोड़ रूपयें से अधिक का हुआ है।

इस फिल्म को लेकर सभी की चिंता बढ़ती जा रही है। वहीं अगर बात करें ‘द कश्मीर फाइल्स’ के कलेक्शन की तो इस फिल्म ने शनिवार को 7 करोड़ रूपये से अधिक का कलेक्शन किया। वहीं रविवार को 8 करोड़ को पार कर गई। रविवार तक के आंकड़ों के हिसाब से इस फिल्म ने पुरे भारत में कुल 228 करोड़ रुपयों का बिजनेस कर चुकी है। इस फिल्म को लेकर ये भी चर्चा चल रही है कि ये फिल्म शायद अभी बॉक्स ऑफिस पर और कुछ हफ्ते चले। वहीं फिल्म ‘आरआरआर’ को लेकर ये अनुमान लगाया जा रहा है की फिल्म की कहानी कुछ ज्यादा लंबी हो गई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper