पीएम मोदी का बड़ा ऐलान, आने वाले डेढ़ साल में 10 लाख लोगों को रोजगार देगी सरकार

नई दिल्ली: देश में बढ़ती बेरोजगारी की बढ़ती दर को देखते हुए मोदी सरकार ने एक बड़ा ऐलान किया है। पीएम मोदी ने आदेश दिया कि आने वाले डेढ़ साल में करीब 10 लाख भर्तियां की जाएंगी। ये नियुक्तियां सरकार के विभिन्न विभाग और मंत्रालय में होगी।

प्रधानमंत्री के अपने आधिकारिक सोशल मीडिया ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके इस बारे में जानकारी दी। इस ट्वीट में मोदी ने बताया कि, ‘नरेंद्र मोदी ने सभी विभागों और मंत्रालयों में मानव संसाधन की स्थिति का जायजा लिया। इसके बाद पीएम मोदी ने आदेश दिया कि सरकार आने वाले 1.5 साल में 10 लाख लोगों की रोजगार देगी।

बेरोजगारी के मुद्दे पर विपक्ष हर बार मोदी सरकार को विपक्ष लगातार घेरता है। राहुल गांधी समेत अन्य विपक्ष के नेता बार-बार रोजगार पर कही गई पीएम मोदी और बीजेपी की बातों के लिए उन्हें घेरते रहते हैं।

पीएमओ ने जब ये ट्वीट किया तो उसके बाद भी विपक्ष अपनी हरकतों से बाज नहीं आया। कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘इसे कहते हैं 900 चूहें खाकर बिल्ली हज को चली। बीते 50 साल के हिसाब से बेरोजगारी दर सबसे ज्यादा बढ़ गई है। रुपया 75 साल की अपनी सबसे कम कीमत पर है। पीएम ट्वीटर- ट्वीटर खेलकर कबतक इन सारी बातों से लोगों का ध्यान हटाते रहेंगे?’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper