सभी के प्रयासों से भारत को दुनिया में सबसे आगे ले जाया जा सकता : मांडविया

नयी दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा है कि सभी के सामूहिक प्रयासों से भारत को दुनिया में सबसे आगे ले जाया जा सकता है और इस सदी में वैश्विक स्वास्थ्य सेवा का एक आदर्श स्थल बनाया जा सकता है।

मांडविया ने पद्म पुरस्कार प्राप्त चिकित्सकों के एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा है कि देश में श्रम शक्ति और प्रतिभा की कभी कमी नहीं रही। उन्होंने कहा कि पुरस्कार विजेता को मिलता है और सम्मान उनको मिलता है जो देश के लिए जीते हैं। इस अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री डॉ. भारती प्रवीण पवार भी उपस्थित रहीं। समाराेह में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. आर एस शर्मा भी शामिल हुए।

अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों, डॉक्टरों और स्वास्थ्य क्षेत्र के पेशेवरों की सराहना करते हुए मांडविया ने कहा कि कोविड-19 के मुश्किल दौर में स्वास्थ्य पेशेवरों की भूमिका खासी अहम रही है। इस चुनौतीपूर्ण दौर में डॉक्टरों और स्वास्थ्य पेशेवरों की कड़ी मेहनत और प्रतिबद्धता मानव समुदाय के इतिहास में ऐतिहासिक है। वे असली नायक हैं, जिन्होंने कोविड-19 के दौर में मरीजों की सेवा और रक्षा के लिए अपने स्वास्थ्य और जिंदगियों को जोखिम में डाल दिया। उन्होंने कहा, “ राष्ट्र उनका हमेशा ऋणी रहेगा। सभी स्वास्थ्य पेशेवरों का अंशदान अनमोल है।”

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, “ हम सभी के सामूहिक प्रयासों के साथ, हम मिलकर भारत को दुनिया में सबसे आगे ले जा सकते हैं और इस सदी में वैश्विक स्वास्थ्य का एक प्रतीक बना सकते हैं।”

डॉ. पवार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सशक्त मार्गदर्शन में, पद्म पुरस्कार विजेताओं के चयन की प्रक्रिया खासी बदल गई है और अब आम लोगों को सम्मान मिल रहा है। अब नामांकन प्रक्रिया में नामांकित व्यक्ति के नाम पर नहीं, बल्कि उसके काम पर जोर दिया जा रहा है। उन्होंने सभी से आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करने और भारत को स्वास्थ्य सेवा में अग्रणी बनाने में योगदान करने के लिए अपनी क्षमता और सामर्थ्य बढ़ाने रहने का अनुरोध किया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper