62 साल की महिला गरीबी में घर-घर बेचती है दूध, 6 बेटियों का खर्च अकेले उठाती है

वक्त इंसान से आता है, वो वहां कभी सोच भी नहीं सकता, वक्त अच्छे इंसान को लाचार बना देता है और बेहूदा जिंदगी जीने को मजबूर हो जाता है, 40 साल पहले शीला बुआ के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ था, उसका सुहागरात बर्बाद हो गया था, फिर वो आ गई कासगंज स्थित मायके में रहती हैं, किस्मत ने विधवा के घर भले ही उन्हें बेजान बना दिया हो, लेकिन मुश्किल हालात के बीच खुद अपने जीवन का सोना भरने के लिए खिलौने। बल्कि मायके में रहने और अपने साथ पूरे परिवार की जिम्मेदारी लेने का कदम उठाया। पिछले 24 सालों से वह पशुपालन कर अपने परिवार का पालन-पोषण कर रही है, अब उसके पास कुल 5 भैंस हैं और वहां से रोजाना करीब 40 लीटर दूध लेती हैं और आज हम आपको उनकी पूरी कहानी बताने जा रहे हैं।

शीला बुआ की उम्र 62 साल है, इतना आने के बाद भी वह लोगों के घरों में दूध लाने के लिए हर दिन साइकिल पर दूर-दूर जाती हैं और अपने परिवार की देखभाल कर रही हैं, दरअसल रामप्रसाद जी की बड़ी बेटी शीला जी, जिन्होंने खेड़ा में रहती है। शादी 40 साल पहले आज ही के दिन 1980 में सभी की सहमति से आवागढ़ रामप्रकाश से हुई थी, लेकिन किस्मत के आगे कोई ऐसा नहीं कर पाया और उनकी शादी का एक भी हिस्सा पूरा नहीं हुआ कि उनके पति का निधन हो गया, जो आज तक किसी ने नहीं किया। आज। यह जानते हुए कि जब उसने शादी के बारे में सोचा, तो उसने अपने भाई के कारण अपनी जान गंवा दी, इस सब के बाद, शीला ने फैसला किया कि आप शादी नहीं करेंगे और जीवन जीते हुए अपने परिवार की देखभाल करेंगे।

शीला बुआ का मानना ​​है कि मेरे लिए भी उम्र की कोई सीमा नहीं है क्योंकि मेरे ऊपर अभी भी मेरे परिवार की कई जिम्मेदारियों का बोझ है, इसलिए वह चाहे तो बीमार नहीं हो सकती क्योंकि उसे अपने कर्तव्यों को पूरा करना है। शीला के भाई विनोद की 6 बेटियां हैं, जिनमें सबसे बड़ी बेटी सोनम भी विधवा है और वह भी उसके साथ रह रही है। इसके लिए शीला बुआ को रात में काफी मेहनत करनी पड़ती है और अपनी उम्र को भूलकर शीला भगवान ने अपने जीवन के तमाम संघर्षों को लड़ा और अपनी मेहनत के दम पर अपने परिवार को यहां तक ​​ले आई। उन्होंने कभी किसी के सामने हाथ नहीं फैलाया बल्कि आत्मनिर्भर होकर अपने घर की जिम्मेदारी उठाई। भारत उनके जज्बे को सलाम करता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper