जिसे कोसा उसने मांगी लंबी उम्र की दुआ, एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे को दी जन्मदिन की बधाई

मुंबई: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का बुधवार को 62वां जन्मदिन मना रहे हैं। इस मौके पर महाराष्ट्र के मुख्मयंत्री एकनाथ शिंदे ने उन्हें बधाई दी है। साथ ही उनके बेहतर स्वास्थ्य की कामना की है। खास बात है कि हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान ठाकरे ने शिवसेना में बगावत करे वाले विधायकों का नाम लिए बगैर आरोप लगाए थे। उन्होंने सीएम शिंदे को भी आड़े हाथों लिया था। मुख्यमंत्री शिंदे ने ट्वीट किया, ‘महाराष्‍ट्र के पूर्व मुख्‍यमंत्री माननीय श्री उद्धवजी ठाकरे जी को जन्‍मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। वे दीर्घायु हों और स्वस्थ रहें, माता जगदम्बा के चरणों में प्रार्थना है…’। खास बात है कि शिवसेना में हुई बगावत के बाद से ही शिंदे और ठाकरे की मुलाकात नहीं हुई है। हालांकि, बागी विधायक लगातार खुद को शिवसैनिक ही बता रहे हैं।

इंटरव्यू में उद्धव ने बागियों को घेरा
शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ को दिए साक्षात्कार में ठाकरे ने बागियों को ‘सड़े हुए पत्ते’ बताया था। उन्होंने कहा था, ‘सड़े हुए पत्ते झड़ रहे हैं। जिन्हें वृक्ष से सब कुछ मिला, सभी रस मिले इसीलिए वे तरोताजा थे। उन्होंने कहा, ‘जब मैंने आपको पार्टी संभालने की जिम्मेदारी दी थी, नंबर दो का पद दिया था। पार्टी संभालने के लिए पूरा विश्वास किया था, उस विश्वास का तुमने घात किया। मेरे अस्पताल में रहने के दौरान मेरी हलचल बंद थी। तब तुम्हारे हाल-चाल जोर में थे और वे भी पार्टी के विरोध में।’

महाराष्ट्र में कैबिनेट विस्तार को लेकर चर्चाएं जारी हैं। इसे लेकर ठाकरे ने कहा था, ‘उसका विस्तार कब होगा, पता नहीं। लेकिन वे कितने भी मंत्री-वंत्री हो जाएं लेकिन उनके माथे पर लगी विश्वासघात की मुहर कभी पोंछी नहीं जा सकती।’ इंटरव्यू के दौरान ठाकरे ने बागी विधायकों को जमकर खरी खोटी सुनाई उन्होंने कहा कि उन लोगों को ताकत देना गलती थी। उन्होंने कहा, ‘लेकिन उस ताकत से उन्होंने न केवल उलट हमला किया, बल्कि राजनीति में जिस मां ने जन्म दिया, उस मां को ही निगलने निकली यह औलाद है।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper